65000 युवाओं पर छा गये मोदी

न्यूयार्क | एजेंसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रॉक स्टार के रूप में देखने के बारे में किसने सोचा होगा? लेकिन शनिवार रात भारतीय प्रधानमंत्री मोदी ने न्यूयार्क के सेंट्रल पार्क में संगीत जगत की बड़ी हस्तियों जेजेड, बेयोंसे, कैरी अंडरवुड, स्टिंग और एलिसिया कीज के साथ मंच साझा किया और 65,000 से अधिक लोगों से रॉक स्टार जैसा सम्मान पाया. इस दौरान उन्होंने जमीन से जुड़े मुद्दे स्वच्छता, स्वास्थ्य और वैश्विक शांति की बात की.

वह उदार दर्शकों, विशेषकर युवाओं के बीच सीधे पैठ बनाने में कामयाब रहे, जहां आलोचक मीडिया की मौजूदगी नहीं थी और उन्होंने अपनी पारंपरिक छवि तोड़ने की कोशिश की. उन्होंने भाषण का अधिकांश हिस्सा अंग्रेजी में दिया और गरीबी व न्याय के मुद्दे पर अपनी राय रख कर फेस्टिवल के इस थीम के जरिए दर्शकों से जुड़ गए.

अमरीका में वह पहले भारतीय नेता हैं, जिन्हें सबसे ज्यादा दर्शकों ने सुना, कई लोगों ने टेलीविजन, इंटरनेट के जरिए देखा, जिनकी संख्या सेंट्रल पार्क के 65,000 दर्शकों से कहीं अधिक थी.

दिल्ली से आए एक भारतीय इसकी तुलना करते हुए कह रहे थे कि वह ऐसे ही है जैसे बराक ओबामा दिल्ली के रामलीला मैदान या लोदी गार्डन में भाषण दे रहे हों और बॉलीवुड की हस्ती मौजूद हो.

ग्लोबल सिटिजन फेस्टिवल में संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की-मून, बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना, विश्व बैंक के अध्यक्ष जिम योंग किम, नार्वे के प्रधानमंत्री एर्ना सोलबर्ग और नेपाल के प्रधानमंत्री सुशील कोईराला ने भी युवाओं को अपना संदेश दिया, लेकिन वे सभी मोदी के व्यक्तित्व और जिस तरह उन्होंने दर्शकों से खुद को जोड़ा, उनके सामने बौने नजर आए.

मोदी ने 15 अगस्त के अपने भाषण में स्वच्छता का जो उल्लेख किया था, उसे न्यूयार्क के सेंट्रल पार्क में भी दोहराया. उन्होंने वहां मौजूद उन लोगों की तारीफ की, जो विश्व भर में स्वच्छता और गरीबी के खिलाफ अभियान चला रहे वेबसाइट ‘ग्लोबल सिटिजन’ के सदस्य के रूप में जमा हुए थे.

उन्होंने ग्लोबल सिटिजन फेस्टिवल को अंग्रेजी में संबोधित करते हुए कहा, “आप न्यूयार्क में किस तरह और कितना काम कर रहे हैं?”

इसके साथ ही उन्होंने टेलीविजन, स्मार्टफोन, टेबलेट और लैपटॉप पर इस कार्यक्रम को देख रहे लोगों का भी अभिनंदन करते हुए कहा, “नमस्ते!”

मोदी ने कहा, “मैं बंद कमरे में नहीं बल्कि इस खुले मंच का हिस्सा बन कर प्रसन्न हूं.”

प्रधानमंत्री ने कहा, “80 करोड़ युवाओं ने हर किसी तक पेयजल और साफ-सफाई की व्यवस्था पहुंचाने के लिए हाथ मिलाया है.”

उन्होंने कहा, “मैं आपको सलाम करता हूं, मैं दोहराता हूं, मैं आपको सलाम करता हूं.”

मोदी के यह कहते ही वहां खड़े दर्शकों के बीच तालियों की गड़गड़ाहट शुरू हो गई.

उन्होंने कहा, “मुझे आप पर गर्व है, आपके परिवार को आप पर गर्व है, आपके दोस्तों को आप पर गर्व है.”

गौरतलब है कि मोदी पांच-दिवसीय दौरे के तहत शुक्रवार देर शाम अमरीका पहुंचे हैं. उन्होंने अपने दौरे पर संयुक्त राष्ट्र महासभा में शनिवार को अपना पहला भाषण दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *