मोदी को प्रत्याशी बनाना असंवैधानिक

जांगीर चांपा | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के जांजगीर चाम्पा में शनिवार को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी करुणा शुक्ला ने अपनी पुरानी पार्टी भाजपा पर प्रहार करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद के लिए पार्टी का उम्मीदवार बनाया जाना संविधान के खिलाफ है.

शुक्ला ने कहा, “यह हमारे देश के संविधान के खिलाफ है. संसद के निर्वाचित सदस्य (सांसद) या विधानसभा के निर्वाचित सदस्य (विधायक) ही क्रमश: प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री का चयन कर सकते हैं. मैं इसे सही नहीं समझती.”


उन्होंने कहा, “यह संविधान के स्थापित सिद्धांतों के विरुद्ध है.” इसके साथ ही उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनावों में आक्रामक प्रचार कर रहे मोदी का छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान, मिजोरम और दिल्ली के चुनावी नतीजों पर कोई प्रभाव नहीं होगा.

भाजपा महिला मोर्चा की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शुक्ला ने कहा, “इन राज्यों की अपनी विशिष्टता और समस्याएं हैं. राष्ट्रीय समस्याएं राज्यों से भिन्न हैं. राज्यों में कार्यकतरओ ने जीत सुनिश्चित करने के लिए अपनी रणनीति बनाई है. मोदी का इन चुनावों में कोई प्रभाव नहीं होगा.”

जांजगीर चांपा संसदीय क्षेत्र से पूर्व सांसद शुक्ला ने छत्तीसगढ़ में भाजपा की कार्यशैली को लेकर उभरे मतभेदों के कारण पिछले महीने पार्टी छोड़ दिया था. उन्होंने कहा, “मैं मूल्यों और सिद्धांतों के आधार पर राजनीति करती हूं. आत्म सम्मान बेहद जरूरी है. पिछले पांच वर्षों से भाजपा में कुछ ऐसी चीजें चल रही थी, जो मुझे पसंद नहीं. इसी कारण से मैंने पार्टी छोड़ने का फैसला किया. मुझे लगा कि भाजपा को मेरी जरूरत नहीं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!