मोदी का विकास बड़े घरानों के लिये

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: सोनिया गांधी ने कहा प्रधानमंत्री मोदी का विकास बड़े घरानों के लिये है. उन्होंने तंज कसते हुये कहा कि भाजपा को बताना चाहिये कि लोग दाल कैसे खायें न कि क्या खाये. उन्होंने कहा कि जवाहरलाल नेहरू के समय देश में अच्छे दिन थे. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शनिवार को कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार के ‘विकास’ का अर्थ ही अलग है, क्योंकि विकास से उनका आशय सिर्फ ‘कारोबारियों का विकास’ ही है. इंदिरा गांधी इनडोर स्टेडियम में प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की जयंती पर आयोजित समारोह के दौरान सोनिया ने कहा, “बार-बार यह शब्द ‘विकास’ दोहराया जा रहा है. उन्होंने इस शब्द का मतलब ही बदलकर रख दिया है. उनके लिए इसका मतलब सिर्फ कुछ कारोबारियों का विकास है.”

हर महीने ‘मन की बात’ नाम से आकाशवाणी पर प्रसारित होने वाले प्रधानमंत्री के संबोधन पर चुटकी लेते हुए सोनिया ने कहा, “जब जवाहरलाल नेहरू प्रधानमंत्री थे तब देश में अच्छे दिन थे, क्योंकि तब सभी मन की बात कह सकते थे, क्योंकि तब यह सिर्फ एक रेडियो कार्यक्रम भर नहीं था.”

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा देश को यह बता सकती है कि क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, लेकिन यह लोगों को नहीं बता सकती कि वे दाल कैसे खाएं, क्योंकि दाल की कीमतें आम लोगों की पहुंच से ऊपर जा चुकी है.

सोनिया ने कहा कि जवाहरलाल नेहरू ने देश के पहले प्रधानमंत्री के तौर पर देश को विकास के पथ पर आगे ले जाने के लिए अनेक संस्थानों की नींव रखी लेकिन ‘मौजूदा सरकार में उन संस्थानों को नष्ट किया जा रहा है’.

सोनिया ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का रिमोट कंट्रोल बताया, जैसा कि मनमोहन सिंह की सरकार के दौरान खुद उनके लिए कहा जाता था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *