कांग्रेस पर भड़के मोदी

बिलासपुर | संवाददाता: नरेंद्र मोदी ने छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पर जम कर निशाना साधा. उन्होंने भिलाई, सूरजपुर और बिलासपुर में आयोजित सभा में कांग्रेस, राहुल गांधी, सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह पर जमकर हमला बोला. नरेंद्र मोदी ने कहा कि शनिवार को सोनिया अमेठी गईं थी, वहां उन्होंने लोगों से कहा कि इंदिराजी ने अपने बेटे को अमेठी को दिया था, अब मैं अपना बेटा अमेठी को दे रही हूं. इसे आप संभालना. उन्होंने कहा कि और यहां हमें सोनिया कहती हैं कि मेरा बेटा देश संभलेगा. अरे जो बेटा अमेठी नहीं संभाल सकता वो देश क्या संभालेगा.

नरेंद्र मोदी ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं की पार्टी है, यह लोकतांत्रिक प्रक्रिया से चलने वाली पार्टी है. 2014 चुनाव एक ऐसा चुनाव है जिसे कोई दल या उम्मीकदवार नहीं लड़ रहा, इसे देश की जनता लड़ रही है.
मोदी ने अजीत जोगी का नाम लिये बिना कहा कि कांग्रेस के लोग कुछ महीने पहले नए कपड़े सिलवा रहे थे, उन्होंने डिपार्टमेंट भी बांट लिए थे. लेकिन छत्तीसगढ़ की जनता ने उनके सिलाए कपड़ों को हराजी करने के लिए मजबूर कर दिया.


मोदी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस का एक ऐसा नेता है जो इस प्रदेश को तबाह कर देता. छत्तीसगढ़ की जनता को इस बात की बधाई कि उन्होंने प्रदेश को उस खुरापाती व्यक्ति से बचा लिया. उन्होंने कहा कि इन दिनों ये व्यक्ति भाजपा के नाम से झूठे पर्चे छपवाकर बंटवा रहा है. आप लोग इसकी बातों में मत आना.

भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस आत्म चिंतन करे कि उसने ऐसा क्या पाप किया है कि छत्तीसगढ़ की जनता उनका मुंह भी देखने के लिए तैयार नहीं है. पहले जब भी देश का नुकसान होता था तो प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को गाली पड़ती थी. लेकिन पिछले दिनों पीएम कार्यालय में काम करने वाले एक व्यक्ति ने किताब में यह खुलासा किया है कि दिल्ली में मनमोहन सिंह नहीं, मां-बेटे की सरकार चल रही है.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस और मां-बेटे की सरकार इस बात को पचा नहीं पा रही कि एक चायवाला उन्हें ललकार रहा है. कांग्रेस पार्टी यह सहन नहीं कर पा रही कि एक गरीब मां का बेटा उन्हें ललकार रहा है. कांग्रेस का यह सामंतवादी रवैया है.

मोदी ने कहा कि मैं कई दिनों से मां-बेटे और अब तो बेटी के भी भाषण पढ़ रहा हूं. वे लगातार जादूगर की बात कर रहे थे. लेकिन कल अमेरिका के अखबार से पता चला कि जादुई चिराग किसके पास है. तब मुझे पता चला कि टूजी नहीं जीजाजी के पास यह चिराग है. जिनके पास एक लाख रुपए थे, दसवी कक्षा तक पढ़ाई की और कुछ साल में तीन सौ करोड़ रुपए बन गए. यह लूट बंद होनी चाहिए.

नरेंद्र मोदी ने मनमोहन सिंह पर निशाना साधते हुए कि पहली बार हमने दखा कि पीएम कार्यालय को प्रेस कान्फ्रेंस कर यह खबर देनी पड़ी कि पीएम 1100 बार बोले थे. 10 साल में पीएम की परफॉरमेंस यही है कि वे 1100 बार बोले. क्या ऐसे लोगों के रहते देश चल सकता है?

मोदी ने कहा कि मैं देश के 18 से 28 की उम्र के नौजवानों को बताना चाहता हूं कि 12 की परीक्षा सबसे महत्वपूर्ण होती है. इसके परिणाम के आधार पर ही आप इंजीनियर, डॉक्टर और आगे की तैयारी करते हो. ऐसे ही 18 से 28 की उम्र जिंदगी का गोल्डन पीरियड होता है, जिंदगी की पूरी नींव इसी उम्र के बीच रखी जाती है. कोई 75 साल के उम्र का व्यक्ति की उम्र के दो या चार साल बिगड़ जाए तो फर्क पड़ता है क्या. लेकिन नौजवानों के 5 महीने भी बिगड़ जाए तो उनकी जिंदगी बर्बाद हो जाती है. अगर इस दौरान दिल्ली में निकम्मी सरकार आ गई तो आपके जीवन के पांच साल बर्बाद हो जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!