भारतवंशी कैलिफोर्निया गवर्नर की दौड़ में

वाशिंगटन | एजेंसी: भारतीय मूल के अमरीकी नागरिक और पूर्व अमरीकी वित्त अधिकारी नील कशकरी कैलिफोर्निया के गवर्नर की रेस में हैं. नील कशकरी रोजगार के अवसर पैदा करने और पब्लिक स्कूलों में सुधार के संकल्पों के साथ कैलिफोर्निया के गवर्नर पद की दौड़ में शामिल होने की योजना बना रहे हैं. नील 2008 के वित्तीय संकट के दौरान बैंक बेलआउट के योजनाकार भी थे.

सैक्रेमेंटो स्थित कैलिफोर्निया स्टेट युनिवर्सिटी के 2014 सक्रेमेंटो बिजनेस रीव्यू में बोलते हुए नील ने कहा, “आज, अच्छी शिक्षा का उपहार और इससे बनने वाले अवसर, लाखों संघर्षरत कैलिफोर्निया निवासियों की पहुंच से बाहर हैं.”

नील की वेबसाइट के मुताबिक, 40 वर्षीय रिपब्लिकन ने कहा, “इसलिए मैं नौकरियां तैयार करने और बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए गवर्नर पद की दौड़ में शामिल होने जा रहा हूं.”

लेकिन सैन जोस मरकरी न्यूज के मुताबिक, डेमोक्रेटिक जेरी ब्राउन के दोबारा चुनाव लड़ने की संभावना काफी ज्यादा है और यदि ऐसा हुआ तो नील की लड़ाई काफी कठिन हो जाएगी.

इस समय नील को चुनौती देने वाले एकमात्र रिपब्लिकन टिम डोनेली हैं.

मरकरी न्यूज ने कहा, “आने वाले हफ्तों में राज्य के रिपब्लिकन और स्वतंत्र मतदाताओं के कशकरी के पक्ष में होने की जांच के साथ ब्राउन के खिलाफ खड़े होने के लिए उनकी धन जुटाने की योग्यता की परीक्षा भी होगी.”

नील, प्रथम पीढ़ी के अमरीकी हैं, जिनके माता-पिता 50 साल पहले भारत से जाकर वहां बस गए थे. नील को 2006 में तत्कालीन रिपब्लिकन राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने वित्त मंत्रालय में नियुक्त किया था.

नील ने अपने प्रचार दल के सदस्यों के नाम भी लिए, जिनमें मिट रोमनी और जॉन मैक्केन और कैलिफोर्निया के पूर्व गवर्नर एरनॉल्ड श्वार्जनेगर शामिल हैं.

पिछले साल निवेश बैंकिंग सहायक की नौकरी छोड़कर गवर्नर पद के लिए नील ने पूरे राज्य का दौरा शुरू किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *