भारत पंहुचे ओली

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: नेपाल के प्रधानमत्री के.पी. शर्मा ओली भारत की छह दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार को यहां पहुंच गए. पिछले साल प्रधानमंत्री का कार्यभार संभालने के बाद यह उनकी पहली विदेश यात्रा है. विदेशमंत्री सुषमा स्वराज ने हवाईअड्डे पर उनकी अगवानी की.

ओली अपनी पत्नी राधिका साक्य के साथ यहां पहुंचे हैं और 2011 के बाद नेपाल के किसी प्रधानमंत्री की यह पहली द्विपक्षीय यात्रा है. वर्ष 2011 में तत्कालीन प्रधानमंत्री बाबूराम भट्टराई भारत आए थे.


नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में 2014 में तत्कालीन प्रधानमंत्री सुशील कोईराला भारत आए थे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगस्त 2014 में नेपाल की द्विपक्षीय यात्रा पर गए थे, जो 17 सालों में किसी भारतीय प्रधानमंत्री की पहली नेपाल यात्रा थी.

ओली पत्नी सहित सरकारी अतिथि के तौर पर राष्ट्रपति भवन में ठहरेंगे.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने यहां गुरुवार को ओली के आगमन से पूर्व मीडिया से बातचीत में कहा, “यात्रा के दौरान सभी आपसी हितों पर चर्चा की संभावना है.”

उन्होंने कहा, “यात्रा के दौरान खासतौर पर ऊर्जा, संपर्क, और दोनों देशों की जनता के बीच आपसी जुड़ाव जैसे प्रमुख क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग पर विशेष रूप से ध्यान दिया जाएगा.”

यात्रा में ओली के साथ एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी आया है.

प्रतिनिधिमंडल में वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों और नेपाल के कारोबारी समुदाय के अलावा उपप्रधानमंत्री और विदेशमंत्री कमल थापा, वित्तमंत्री विष्णु पौडल, गृहमंत्री शक्ति बहादुर बसनेत, प्रधानमंत्री के मुख्य सलाहकार विष्णु प्रसाद रिमल, राष्ट्रीय पुनर्निर्माण प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी और विभिन्न दलों के 13 सांसद भी शामिल हैं.

सुषमा शनिवार को ओली से मुलाकात करेंगी, जिसके बाद ये गणमान्य अतिथि प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात करेंगे.

इसके बाद प्रतिनिधिमंडल स्तरीय वार्ताएं और विभिन्न समझौतों पर हस्ताक्षर किए जाएंगे.

ओली रविवार को देहरादून रवाना होंगे, जहां वह टिहरी जल विद्युत परियोजना का दौरा करेंगे.

ओली उसी दिन नई दिल्ली लौट आएंगे और उसके बाद विभिन्न दलों के नेताओं से मुलाकात करेंगे.

केंद्रीय विद्युत राज्यमंत्री पीयूष गोयल सोमवार को ओली से मुलाकात करेंगे, जिसके बाद ये गणमान्य अतिथि वैश्विक मामलों की भारतीय परिषद को संबोधित करेंगे.

ओली शाम को कारोबारियों की बैठक में हिस्सा लेंगे और मंगलवार को वह गुजरात के भुज रवाना हो जाएंगे, जहां वह भूकंप पुनर्निमाण कार्यो का जायजा लेंगे.

उसी दिन बाद में वह मुंबई जाएंगे, जहां वह महाराष्ट्र के राज्यपाल सी. विद्यासागर राव से मुलाकात करेंगे.

ओली बुधवार को वापस नेपाल लौट जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!