नेपाल में सुषमा स्वराज ‘प्रचंड’ से मिली

काठमांडू | एजेंसी: नेपाल-भारत संयुक्त आयोग की विदेश मंत्रालय स्तरीय बैठक 23 वर्षो बाद यहां शनिवार को शुरू हुई.

नेपाल के दौरे पर शुक्रवार शाम यहां पहुंची भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अपने नेपाली समकक्ष महेंद्र बहादुर पांडे के साथ बैठक का संयुक्त रूप से उद्घाटन किया.

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरुद्दीन ने कहा कि द्विपक्षीय रिश्तों के विकास की संभावनाओं की देखरेख करने के लिए प्रमुख व्यक्तियों का समूह स्थापित करने पर दोनों पक्ष काम कर रहे हैं.

प्रमुख व्यक्तियों का समूह के अलावा बैठक में अन्य मुद्दों, द्विपक्षीय संबंधों, सुरक्षा एवं रक्षा सहयोग को बल देने के लिए विदेश सचिव स्तरीय तंत्र, सीमा पर स्तंभों की देखभाल और नष्ट हो गए स्तंभों की जगह नए स्तंभ लगाने के लिए सीमा कार्य समूह, जलाप्लावन से प्रभावित होने वाले क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय सीमा के समीप सड़क निर्माण और नशीले पदार्थो की तस्करी पर रोकथाम के लिए आपसी सहमति के स्मारपत्र को अंतिम रूप देने पर चर्चा की जाएगी.

अगली बैठक भारत के एग्जिम बैंक से कर्ज, कृषि विकास में सहयोग, पूर्वी क्षेत्र में मध्यम ऊंचाई वाली पहाड़ियों पर राजमार्ग, खास तौर से चियो भांजयांग के समीप सिक्किम लिंक, पूर्व-पश्चिम राजमार्ग को चौड़ा करने, महेंद्रनगर के समीप महाकाली नदी पर पुल निर्माण, दादेलधुरा में झूला पुल, पोस्टल राजमार्ग और फीडर रोड पहले और दूसरे चरण के रेल, रेलवे के लिए रोलिंग स्टॉक और पोखरा में क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण पर केंद्रित होगी.

सुषमा ने बैठक से इतर सिंह दरबार में संविधानसभा के अध्यक्ष सुभाष नेमबांग से और नेपाल की एकीकृत कम्युनिस्ट पार्टी-माओवादी के नेता पुष्प कमल दहल उर्फ प्रचंड से भी मुलाकात की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *