नीदरलैंड्स से आस्ट्रेलिया परास्त

पोटरे अलेग्रे | एजेंसी: पूर्व उपविजेता नीदरलैंड्स ने आस्ट्रेलिया को 3-2 से मात दे दी. पहले मैच में स्पेन को 5-1 से मात देने वाली नीदरलैंड्स को आस्ट्रेलिया ने कड़ी टक्कर दी और कहीं भी मैच को एकतरफा नहीं होने दिया.

अर्जेन रोबेन मैच के 20वें मिनट में अकेले कई खिलाड़ियों को छकाते हुए बीच मैदान से गेंद लेकर आस्ट्रेलिया के गोलपोस्ट तक गए और मैच का पहला गोल किया. रोबेन का इस विश्व कप में यह तीसरा गोल था. आस्ट्रेलिया ने हालांकि मात्र एक मिनट के अंदर स्कोर को बराबर कर लिया. आर. मैक्गोवान के लंबे पास पर टिम काहिल ने बहुत ही खूबसूरत गोल किया.

काहिल ने विश्व कप में आस्ट्रेलिया द्वारा किए गए कुल गोल का आधा अकेले किया है, और विश्व कप लगातार तीसरे मैच में उन्होंने गोल करने में सफलता हासिल की. काहिल को हालांकि मैच के 43वें मिनट में फाउल करने के कारण पीला कार्ड दिखाया गया, परिणामस्वरूप आस्ट्रेलिया को अपनी इस गोल की मशीन के बिना ही ग्रुप चरण के आखिरी मुकाबले में स्पेन का सामना करना पड़ेगा.

मध्यांतर तक दोनों टीमें और कोई गोल नहीं कर सकीं और स्कोर 1-1 से बराबरी पर रहा. मध्यांतर तक आस्ट्रेलिया ने बहुत ही प्रतिबद्धतापूर्ण प्रदर्शन किया. इस दौरान उनकी तरफ से गोल की पांच कोशिशें की गईं, तथा डच गोलपोस्ट पर किए गए चार आक्रमणों में एक में उन्हें सफलता मिली. मध्यांतर तक आस्ट्रेलियन गेंद पर कब्जा कायम रखने में 50 फीसदी सफल रहे.

मध्यांतर के बाद दूसरे मिनट में ही नीदरलैंड्स के कप्तान रोबिन वैन पर्सी को भी फाउल के कारण पीला कार्ड दिखाया, अत: काहिल की ही तरह पर्सी भी अपनी टीम के आखिरी ग्रुप मैच में नहीं खेल सकेंगे. आस्ट्रेलिया ने इस बीच आक्रमण थोड़ा तेज किया और 54वें मिनट में पेनाल्टी हासिल करने में सफल रहा. जेडीनैक ने इस पेनाल्टी पर गोल करने में कोई चूक नहीं की और आस्ट्रेलिया को 2-1 से बढ़त दिला दी.

अब स्पेन के सामने संकट की स्थिति थी, और उन्हें अब आक्रमण तेज करने पर मजबूर होना पड़ा. पर्सी ने मैच के 58वें मिनट में डीपे के पास पर गोल कर स्पेन को दोबारा मैच में बराबरी पर ला दिया, जिसे डीपे ने 68वें मिनट में गोल कर 3-2 कर दिया. डीपे का नीदरलैंड्स के लिए किया गया यह पहला गोल था जो इस मैच का विजयी गोल भी साबित हुआ.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *