राज्यसभा में गाजा मामले पर कार्यवाही बाधित

नई दिल्ली | एजेंसी: राज्यसभा में शुक्रवार को भी विपक्ष द्वारा गाजा संघर्ष पर चर्चा की मांग को लेकर कई बार कार्यवाही बाधित हुई. हंगामे के कारण प्रश्नकाल नहीं हो सका और भोजनावकाश के पहले तीन बार सभा की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी.

राज्यसभा में जैसे ही कार्यवाही शुरू हुई, विपक्षी सांसद गाजा संघर्ष पर तत्काल चर्चा की मांग करने लगे.

विपक्ष की मांग को देखते हुए संसदीय कार्यमंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि सरकार सोमवार को इस मुद्दे पर चर्चा कराने के लिए तैयार है और कार्य मंत्रणा समिति को इससे अवगत करा दिया गया है.

सभापति ने बार-बार प्रश्नकाल चलने देने के लिए कहा, लेकिन विपक्षी सदस्यों का हंगामा नहीं रुका, जिसके कारण उन्होंने पहले 15 मिनट के लिए और फिर दोपहर तक के लिए कार्यवाही स्थगित कर दी.

जब दोपहर कार्यवाही शुरू हुई, तो नजारा पहले की ही तरह था, जिसके कारण उप सभापति पी.जे.कुरियन ने कार्यवाही दोपहर ढाई बजे तक के लिए स्थगित कर दी.

विपक्ष के शोरगुल के मद्देनजर सरकार हालांकि नरम हुई और इस मामले पर सोमवार को चर्चा कराने पर राजी हुई.

हालांकि विपक्षी सांसद इस मुद्दे पर तत्काल चर्चा कराने पर जोर दे रहे थे, क्योंकि यह बुधवार की कार्य सूची में ही था. लेकिन सरकार ने यह कहते हुए तब इस पर चर्चा रोक दी थी कि नियम ‘मित्र राष्ट्रों’ के प्रति ‘अशिष्ट संदर्भ’ की इजाजत नहीं देते.

राज्यसभा की शुक्रवार की कार्यसूची में भी यह मुद्दा नहीं था.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सभापति को लिखकर कहा था कि वह इस पर चर्चा की अनुमति न दें. सभापति ने हालांकि बाद में इस पर हामी भर दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *