अनाथों को पीटा, अधीक्षक हिरासत में

बिलासपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ के न्यायधानी में सुधारगृह के बच्चों को वहां के अधीक्षक ने बेरहमी से पीट दिया. गंभीर हालात में दो बच्चे सिम्स में उपचारार्थ दाखिल कराए गए हैं. पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी अधीक्षक को हिरासत में ले लिया है.

बताया जाता है कि बिलासपुर के कुदुदंड में सेवा भारती द्वारा संचालित मातृछाया संस्था में ऐसे लावारिस बच्चो को रखा जाता है. बड़े होने पर यहां उनकी परवरिश भी की जाती है. हाल ही में स्टेशन व सड़कों पर घूमने वाले बच्चों को यहां लाकर सुधारगृह में रखा गया था. इनकी देखरेख के लिए संस्था ने कर्मचारी बंशीलाल सूर्यवंशी को बतौर अधीक्षक रखा. घटना के समय शुक्रवार को दोपहर बंशीलाल सुधारगृह में सो रहा था.


बच्चे परिसर में ही खेल रहे थे. इसी बीच किसी ने बंशीलाल के शरीर पर चादर डाल दी. इससे वह आग बबूला हो गया. वह उठा और लाठी लेकर बच्चों की जमकर पिटाई शुरू कर दी. रोड से गुजरने वाले कुछ लोगों ने सुधारगृह से बच्चों की आवाज सुनी तो वे भीतर गए. उन्होंने बंशीलाल को पिटाई करने से रोका और पुलिस को सूचना दी.

सूचना के आधार पर सिविल लाइन पुलिस वहां पहुंची और बंशीलाल को हिरासत में लिया. इधर, पिटाई से एक बच्चे के सिर व एक की आंख के पास चोट आई है. बाकी के शरीर पर डंडे के निशान हैं. दो बच्चों को सिम्स भेजा गया है, बाकी का इलाज संस्था में ही डॉक्टर बुलाकर कराया गया. रात को पुलिस ने वहां जाकर बच्चों का बयान दर्ज किया.

सिविल लाइन टीआई एलपी द्विवेदी ने बताया कि बच्चों के बयान के बाद आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. आरोपी कर्मचारी के बारे में बच्चों ने बताया कि वह हमेशा बच्चों से चिढ़ा रहता था. आए दिन बहाना कर मारपीट करता था. सेवाभारती नामक समाजसेवी संस्था मातृछाया का संचालन करती है.

इस घटना को लेकर मातृछाया का प्रबंधन सख्त हो गया है. अधीक्षक बंशीलाल को तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है. बहरहाल, बच्चे बेहद भयभीत और सहमे हुए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!