पान सिंह तोमर को सर्वश्रेष्ठ फिल्म का अवार्ड

नई दिल्ली: पान सिंह तोमर को 2012 के राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म का पुरस्कार दिया गया है. सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के पुरस्कार के लिए पान सिंह तोमर में मुख्य भूमिका निभाने वाले इरफान खान और मराठी फिल्म अनुमति के अभिनेता विक्रम गोखले को संयुक्त रूप से चुना गया. उषा जाधव को मराठी फिल्म ‘धाग’ में साधारण हाउस वाइफ की दमदार भूमिका निभाने के लिए बेस्ट ऐक्ट्रेस घोषित किया गया, जबकि इस फिल्म के डायरेक्टर शिवाजी लोटन पाटिल को बेस्ट डायरेक्टर घोषित किया गया.

इस साल पुरस्कारों की महत्वपूर्ण श्रेणियों में बॉलिवुड फिल्मों के साथ मलयालम और मराठी फिल्में छाई रहीं. चटगांव विद्रोह पर आधारित वेदव्रत पेन की पहली हिंदी फिल्म ‘चटगांव’ ने बेस्ट फर्स्ट फिल्म के लिए सिद्धार्थ शिवा की मलयालम फिल्म ‘101 चोडियांगल’ के साथ इंदिरा गांधी अवॉर्ड साझा किया.


‘विकी डोनर’ और डायरेक्टर अनवर रशीद की मलयालम फिल्म ‘उस्ताद होटल’ को बेस्ट लोकप्रिय मनोरंजक फिल्म घोषित किया गया. ‘विकी डोनर’ में दमदार ऐक्टिंग के लिए अन्नू कपूर और डॉली अहलूवालिया ने बेस्ट सपोर्टिंग ऐक्टर और बेस्ट सपोर्टिंग ऐक्ट्रेस का अवॉर्ड अपने नाम किया. डॉली ने यह अवॉर्ड मलयालम फिल्म ‘तानीचल्ला नजान’ के लिए कल्पना के साथ साझा किया.

डायरेक्टर सुजॉय घोष को विद्या बालन अभिनीत फिल्म ‘कहानी’ के लिए बेस्ट ऑरिजनल स्क्रीन प्ले राइटर घोषित किया गया, जबकि ‘ओ माई गॉड’ को बेस्ट अडैप्टेड स्क्रीन प्ले के लिए पुरस्कृत किया गया. भावेश मंडालिया और उमेश शुक्ला इसके स्क्रीन प्ले राइटर हैं. नम्रता राव संपादित फिल्म ‘कहानी’ को साल की सर्वश्रेष्ठ संपादित फिल्म घोषित किया गया.

‘चटगांव’ फिल्म के ‘बोलो ना’ गीत के लिए प्रसून जोशी को सर्वश्रेष्ठ गीतकार जबकि शंकर महादेवन को बेस्ट सिंगर घोषित किया गया. मराठी फिल्म ‘संहिता’ के गीत ‘पलकें ना मुंदूं’ के लिए आरती अंकलेकर टिकेकर को बेस्ट गायिका घोषित किया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!