पाक के खिलाफ संसद में निंदा प्रस्‍ताव

नई दिल्ली: पाकिस्तान की संसद में पारित आतंकवादी अफजल गुरु की फांसी के निंदा प्रस्ताव को आज लोकसभा में सर्वसहमति से खारिज कर दिया गया. लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार की ओर से पाक संसद की गतिविधि पर सख्त ऐतराज जताया गया और साफ कर दिया गया कि जम्मू-कश्मीर पाक द्वारा अवैध रूप से कब्जाए गए हिस्से यानी पीओके सहित भारत का अटूट अंग है और हमेशा रहेगा. इस प्रस्ताव को लोकसभा ने एक स्वर में पारित कर दिया.

लोकसभा द्वारा पारित प्रस्ताव में कहा गया है कि भारतीय लोकसभा पाकिस्तान के 14 मार्च 2013 को अफजल गुरु पर लाए गए निंदा प्रस्ताव की निंदा करती है. सदन पाकिस्तान का ध्यान दिलाना चाहता है कि उसने वादा किया था कि पाकिस्तान की धरती का इस्तेमाल भारत के खिलाफ आतंकवाद के लिए नहीं होगा और यही दोनों देशों के बीच शांति संबंधों की शर्त होगी. लोकसभा पाकिस्तान के भारत के आंतरिक मामले में दखलअंदाजी को खारिज करती है. और पाकिस्तान की नेशनल असेंबली से कहना चाहती है कि वो चरमपंथी ताकतों और आतंकियों को समर्थन न दे.

लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने प्रस्ताव पेश करते हुए कहा कि जम्मू-कश्मीर, पीओके भारत का अभिन्न हिस्सा है और रहेगा. मीरा कुमार ने कहा कि आतंकवाद पर पाकिस्तान ऐसी हरकतों से बचे. भारतीय संसद पाकिस्तान की इस हरकत की निंदा करती है. पाकिस्तान भारत के आंतरिक मामले में दखलअंदाजी न करे क्योंकि ये भारत को मंजूर नहीं है.

मीरा कुमार ने कहा कि पाकिस्तान ने भारत से वादा किया है कि वो आतंक के खिलाफ है और भारत के खिलाफ आतंकवाद का वो समर्थन नहीं करेगा, न ही अपनी धरती का इस्तेमाल भारत के खिलाफ होने वाले आतंकवादी कृत्य के लिए होने देगा, लेकिन उसने अपने वादे के खिलाफ काम किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *