बीते साल बम से 824 की मौत

इस्लामाबाद | एजेंसी: पाकिस्तान में साल 2014 में 327 बम विस्फोट हुए जिसमें 824 लोगों की मौत हुई जबकि 2,339 लोग घालय हुए. इन बम विस्फोटों में 26 आत्मघाती विस्फोट भी शामिल हैं. यह जानकारी आधिकारिक आंकड़ों से मिली. समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने आधिकारिक आंकड़ों के हवाले से बताया कि पाकिस्तान के विभिन्न हिस्सों में पिछले साल हुए आत्मघाती हमलों में 249 लोग मारे गए जबकि 582 लोग घायल हुए. 2014 में आत्मघाती हमलों में 34 फीसदी की कमी आई है. साल 2013 में 39 आत्मघाती हमले हुए थे.

साल के पहले छह माह में आतंकवादियों ने 21 आत्मघाती हमलों को अंजाम दिया. आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक जनवरी में सात, फरवरी में छह, मार्च और अप्रैल में एक-एक, मई में दो और जून में चार आत्मघाती हमले हुए. इन हमलों ने 163 लोगों की जान ले ली जबकि 348 लोग घायल हुए थे.


साल की दूसरी छमाही में अफगानी सीमा से लगे देश के उत्तर-पश्चिमी आदिवासी क्षेत्र में आतंकवादियों के खिलाफ पाकिस्तान सरकार ने ‘जर्ब-ए-अज्ब’ अभियान शुरू किया था. इसके बाद से आत्मघाती हमलों में कमी आई थी.

साल की दूसरी छमाही में आतंकवादी केवल पांच आत्मघाती हमलों को अंजाम दे पाए. इन हमलों में 86 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 234 लोग घायल हो गए थे.

पाकिस्तान की सैन्य और कानून प्रवर्तन एजेंसियों द्वारा कार्रवाई शुरू करने के बाद 2014 में हताहत हुए कुल लोगों की संख्या में पिछले साल के मुकाबले 46 फीसदी की कमी आई. 2013 में 324 बम विस्फोटों में 1,532 लोग मारे गए थे.

मृतकों की संख्या के आधार पर 2014 में जनवरी सबसे ज्यादा घातक महीना रहा. इस माह में पाकिस्तान में 42 बम विस्फोट हुए जिनमें 168 लोगों की मौत हुई थी, जबकि 401 अन्य घायल हुए थे. अगस्त का महीना भी दूसरा सबसे खतरनाक महीना था, जिसमें 53 बम विस्फोटों में 103 लोगों की मौत हो गई, जबिक 309 अन्य घायल हो गए.

इनमें से ज्यादातर बम विस्फोटों की जिम्मेवारी पाकिस्तान तालिबान ने ली. कुछ हमलों की जिम्मेदारी राष्ट्रवादी आतंकवादी समूहों ने भी ली.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!