पंचायत ने तुड़वायी शादी

लखनऊ । एजेंसी: हमारे देश के कुछ हिस्सो में कानून की परवाह न करते हुए पंचायतों द्वारा अपने नियम कायदे और फैसले थोपने का सिलसिला जारी है. खास तौर से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कई जगह पंचायतें अभी भी अपने बेतुके फैसले सुना रही हैं और लोग सामाजिक मान्यता और दबाव के आगे पंचायत के फैसले की नाफरमानी करने की हिम्मत भी नहीं जुटा पा रहे हैं.

ताजा मामले में मेरठ में पंचायत ने ऐसे ही एक फैसले में प्रेम विवाह करने वाले युवक को गांव से निकलने का फरमान सुनाया है. इतना ही नहीं बालैनी के गांव सैदपुर में हुई इस पंचायत में पंचों ने प्रेम विवाह भी तुड़वा दिया और युवक की प्रेमिका को भी उसके घर भेज दिया.

जानकारी के मुताबिक प्रेमी युगल में लड़की मूल रूप से मेरठ के मवाना की रहने वाली है. उसकी दो बड़ी बहनों की शादी सैदपुर गांव में एक ही घर में हुई है. वह उनके पास रहती है और पास के ही इन्टर कॉलेज में दसवीं की छात्रा है. उसका गांव के अन्य जाति के 12 वीं के छात्र से प्रेम प्रसंग चल रहा था.

बीती 30 अगस्त को दोनों फरार हो गए. प्रेमी युगल शादी करना चाहता था, लेकिन दोनों के परिवार राजी नहीं थे. इस पर दोनों ने 31 अगस्त को बड़ौत के पास ट्रेन से कटकर आत्महत्या की कोशिश की, लेकिन उन्हें बचा लिया गया. जीआरपी पुलिस ने उन्हें बालैनी थाना को सौंप दिया. जहां पुलिस की सख्ती के डर से दोनों के परिजनों ने थाना पर अपने-अपने बच्चों के प्रेम विवाह पर ऐतराज नहीं होने की बात कही थी.

ग्राम प्रधान पति विनोद के मुताबिक उनके पास जानकारी आई थी कि प्रेमी युगल ने थाना में ही एक दूसरे को माला डालकर शादी कर ली. लेकिन इसके बाद दोनों के परिवारों की पंचायत हुई. जिसमें और लोग भी शामिल हुए. बताया जा रहा है इसी पंचायत में पंचों ने दोनों की शादी तुड़वा दी और लड़की को अपनी बहन के घर चले जाने और लड़के को गांव छोड़कर चले जाने का फरमान सुनाया. डर की वजह से युवक ने गांव छोड़ भी दिया.

प्रधान का कहना है कि वे इस पंचायत में शामिल नहीं रहे लेकिन उनके पास इस पूरे मामले की जानकारी है. उधर थाना बालैनी पुलिस का कहना है कि प्रेमी युगल के परिजन उनकी शादी से सहमत हो गए थे. उसके बाद ही उन्हें गांव में भेजा गया था. उनकी शादी थाना में नहीं हुई. पुलिस का कहना है कि पंचायत में शादी तोड़े जाने की उसे जानकारी नहीं है. पूरे मामले की जानकारी कर उचित कार्रवाई की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *