जम्मू-कश्मीर दो परिवारों का बंधक

किश्तवाड़ | एजेंसी: प्रधानमंत्री मोदी ने जम्मू-कश्मीर को दो परिवारों का बंधक बताया. उन्होंने किश्तवाड़ में जनसभा में लोगों को इन परिवारों के वंशवाद से मुक्ति पाने के लिये भाजपा को वोट देने का आव्हान किया. गौरतलब है कि झारखंड की चुनावी सभा में भी प्रधानमंत्रई मोदी ने वंशवाद से छुटकारा पाने की अपील की थी. जाहिर है कि लोकसभा चुनाव की तर्ज पर मोदी विधानसभा चुनावों में भी वंशवाद पर प्रहार कर रहें हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को जम्मू एवं कश्मीर में लोगों से आह्वान किया कि वे खुद को बंधन मुक्त करने के लिए यहां वंशवाद की राजनीति का खात्मा करें. उन्होंने जम्मू एवं कश्मीर को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ पर्यटन स्थल बनाने का वादा किया. कांग्रेस या नेशनल कांफेंस का नाम लिए बिना मोदी ने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर को दो परिवारों ने बीते 50 वर्षो से अधिक समय से बंधक बना रखा है.

यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “एक परिवार यहां शासन करता है और पांच वर्षो तक इस राज्य को लूटता है, उसके बाद वह बदनाम हो जाता है. फिर राज्य को लूटने की शक्ति वह दूसरे परिवार को सौंप देता है. दोनों के बीच राजनीतिक मैच फिक्सिंग का खेल चल रहा है.”


मोदी ने कहा, “मैं आपसे अपील करता हूं कि वंशवादी शासन के इस जुए से आप खुद को मुक्त करें.”

उन्होंने लोगों को भारी संख्या में भारतीय जनता पार्टी को मतदान करने के लिए कहा, ताकि राज्य में भाजपा अपने बूते सरकार बना सके.

प्रदेश में पांच चरणों में विधानसभा चुनाव होने हैं, जो 25 नवंबर से शुरू होकर 20 दिसंबर तक चलेंगे. मतगणना 23 दिसंबर को होगी.

मोदी ने कश्मीर के प्रति पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के दृष्टिकोण की चर्चा करते हुए कहा कि उनके सपने को पूरा करने के लिए वह जी जान लगा देंगे.

उन्होंने कहा, “जम्मू एवं कश्मीर के प्रति मेरा दृष्टिकोण अटल बिहारी वाजपेयी के उस दृष्टिकोण पर आधारित है, जो इंसानियत, जम्हूरियत तथा कश्मीरियत की बात करता है.”

मोदी ने कहा, “एक समय था, जब गुजरात का कच्छ जिला देश के सबसे पिछड़े इलाकों में से एक था. कच्छ का दौरा कर मैंने बेहद महत्वपूर्ण चीज सीखी. जब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री बना तो वहां के लोगों से मिला. उन्होंने बताया कि वे लोग उन राजनीतिज्ञों के भाषणों से परेशान हैं, जो बार-बार सीमा पार से खतरों की बात करते हैं.”

उन्होंने कहा, “वहां के लोग चाहते थे कि मैं उनके विकास तथा तरक्की की बातें करूं. मैंने कच्छ में इस दृष्टिकोण की शक्ति को जाना. आज की तारीख में कच्छ देश का सबसे तेजी से तरक्की करने वाला जिला है.”

मोदी ने कहा, “पूरा कश्मीर जितनी बिजली का उत्पादन करता है, उससे अधिक कच्छ अकेले करता है. यदि कच्छ समृद्ध हो सकता है, तो कश्मीर क्यों नहीं. मैं यहां कश्मीर के सपने को हकीकत में बदलने के लिए आपसे सहयोग मांगने आया हूं.”

प्रधानमंत्री ने कहा कि पूरे देश के लिए विकास उनका एकमात्र मंत्र है.

उन्होंने कहा, “मैं बॉलीवुड को कश्मीर वापस लाने आया हूं. मैं पर्यटन को कश्मीर वापस लाऊंगा और जम्मू एवं कश्मीर को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ पर्यटन गंतव्य बनाऊंगा.”

उन्होंने उन शरणार्थियों के पुनर्वास की भी बात कही, जो 1947 के बाद पाकिस्तान से भारत आए थे. प्रधानमंत्री मोदी ने वंशवाद के नुकसान गिनाने के बाद कशमीर के विकास के लिये भाजपा को वोट देने का आव्हान किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!