मोदी का ‘दिल्ली मिशन’

नई दिल्ली | एजेंसी: प्रधानमंत्री मोदी ने शनिवार को दिल्ली की जनता से 24 घंटे बिजली, सभी के लिए घर जैसे कई वादे किए. इसके साथ ही उन्होंने जनता से अपील की कि वे पिछले साल सरकार छोड़कर भागने के लिए आम आदमी पार्टी को दंडित करें. दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में भारतीय जनता पार्टी की जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने दिल्ली की जनता से मजबूत, स्थिर सरकार के लिए उनका समर्थन करने की अपील की.

इस दौरान मोदी ने 35 मिनट तक भाषण दिया. उन्होंने कांग्रेस को निशाना बनाया, लेकिन उनका मुख्य ध्यान आप पर रहा. उन्होंने आप संयोजक अरविंद केजरीवाल को खुद को ‘अराजक’ कहे जाने वाले बयान का उल्लेख किया और कहा, “अगर अराजकता लानी है, तो उन्हें जंगलों में जाकर नक्सलियों से जुड़ जाना चाहिए.”


उन्होंने कहा, दिल्ली में अराजकता बर्दाश्त नहीं की जाएगी. दिल्ली को खुद पर गर्व होना चाहिए.

मोदी ने कहा कि क्या लोगों ने ऐसा नेता देखा है, जो ऐसी बातें करता है.

मोदी ने कांग्रेस पर भी वार किए, लेकिन उनके निशाने पर मुख्य रूप से आप ही थी, जिसने 2013 के विधानसभा चुनाव में 70 में 28 सीटों पर जीत हासिल की थी और भाजपा को 31 सीटें मिली थीं.

आप नेता योगेंद्र यादव ने बाद में मोदी की टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “ऐसा लगता है कि हमारी लोकप्रियता से प्रधानमंत्री घबरा गए हैं.”

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने विपक्ष से कहा कि वे राज्यसभा में जनता के जनादेश का आदर करें. उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा लाए गए अध्यादेशों का बचाव किया.

उन्होंने कहा कि विदेशी बैंकों में जमा काला धन एक जटिल मामला है, लेकिन उसे वापस लाने के लिए मोदी सरकार हर संभव प्रयास कर रही है.

मोदी ने कहा कि एक अफवाह फैलाई जा रही है कि भाजपा सरकार ने दिल्ली में सेवानिवृत्ति की उम्र 60 से घटाकर 58 कर दी है.

उन्होंने कहा, “दिल्ली के लोगों, हर दिन एक नया झूठ गढ़ा जाएगा. गुमराह करना, झूठ फैलाना, उनकी राजनीति का यही तरीका है. मोदी वैसा इंसान नहीं है, जो कभी पीठ में छुरा घोंपेगा. अगर झूठा प्रचार किया जाता है तो उस पर भरोसा न करना.”

केजरीवाल द्वारा 49 दिनों बाद ही सरकार से इस्तीफा दिए जाने का उल्लेख करते हुए मोदी ने कहा कि दिल्ली का एक साल बर्बाद हुआ है.

उन्होंने वहां मौजूद लोगों से पूछा, “जिसने एक साल बर्बाद किया, क्या आप उसे सजा देंगे?”

आप के धरना-प्रदर्शन की राजनीति का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि कुछ लोग खास काम में निपुण होते हैं और उन्हें वही काम देना चाहिए.

मोदी ने कहा, “जो लोग सड़कें बाधित करने, धरना देने, प्रदर्शन करने में निपुण हैं, उन्हें वही काम दीजिए. हमारी विशेषज्ञता अच्छी सरकार चलाने में है, हमें वह काम सौंपिए.”

प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा लोकतांत्रिक सरकार की कमी पूरी करेगी और पिछले 15 सालों में उन सपनों को पूरा करेगी, जो पूरे नहीं हो पाए हैं.

मोदी ने कहा कि भाजपा सरकार ने दिल्ली में पानी की समस्या दूर करने के कदम उठाए और करीब 20 लाख गरीबों ने प्रधानमंत्री धन जन योजना के तहत बैंक खाते खुलवाए.

उन्होंने कहा, “दिल्ली पर कांग्रेस का शासन रहा, लेकिन लाखों गरीबों के पास बैंक खाते नहीं थे.”

पीएमजेडीवाई के अंतर्गत दिल्ली में 19.5 बैंक खाते खोले गए और उन्हें एक लाख रुपये तक का बीमा दिया गया.

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार बिजली पोर्टेबिलिटी उपलब्ध कराएगी और फिर लोग अपनी इच्छानुसार कंपनी चुन सकेंगे.

मोदी ने कहा, “यह प्रतियोगिता को बढ़ावा देगा और कीमतें कम होंगी.”

प्रधानमंत्री ने कहा, “हर समस्या का समाधान मौजूद है. ईमानदार इच्छा होनी चाहिए. दिल्ली अपनी समस्या का समाधान चाहता है.”

मोदी ने कहा कि झुग्गियों में रहने वालों के पास 2022 तक अपना घर होगा.

उन्होंने कहा, “यह एक बड़ा काम है. अगर छोटे काम करने होते, तो लोग मुझे नहीं चुनते.”

उल्लेखनीय है कि दिल्ली में बीते 16 वर्षो से भाजपा सत्ता से बाहर है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!