महफूज हैं स्नोडेन

मॉस्को |एजेंसी: अंतर्राष्ट्रीय परंपरा के मुताबिक आखिरकार रूस ने स्नोडेन को अपने यहां एक वर्ष के लिये अस्थायी शरण दे दी है. अमेरिकी जासूसी कार्यक्रम का खुलासा करने वाले सीआईए के पूर्व कर्मचारी एडवर्ड स्नोडेन रूस की राजधानी मॉस्को के शेरेमेतयेवो हवाईअड्डे के पारगमन क्षेत्र से मुक्ति पाने के बाद बेहतर महसूस कर रहे हैं तथा वह महफूज हैं.

रूस के इस कदम से अमरीका के साथ उसके रिश्तों में कड़वाहट आने की संभावना है. सितंबर में अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ रूसी राष्ट्रपति पुतिन की शिखर वार्ता प्रस्तावित है. व्हाइट हाउस ने रूस के फैसले पर गुरुवार को बेहद निराशा जाहिर किया था और कहा था कि अमेरिका सितंबर महीने में प्रस्तावित राष्ट्रपति शिखर बैठक का मूल्यांकन कर रहा है.

स्नोडेन के वकील एनातोली कुचेरेना ने बताया कि, “वह अपने ठिकाने पर पहुंच गए हैं. वह बिल्कुल अच्छा महसूस कर रहे हैं और पूरी तरह महफूज हैं.”

हवाई अड्डे के पारगमन क्षेत्र में एक महीने तक फंसे रहने के बाद उन्हें रूस में एक साल तक रुकने की इजाजत मिल गई है. कुचेरेना ने शुक्रवार को बताया कि उनके पिता लॉन स्नोडेन को भी रूस आने का आधिकारिक आमंत्रण भेजा जाएगा.

कुचेरेना ने कहा, “हमने लगभग सभी दस्तावेज तैयार कर लिए हैं. लॉन और उनके वकील को मेरी तरफ से रूस आने का आमंत्रण भेजा जाना है.”

उनके मुताबिक सुरक्षा कारणों से स्नोडेन के ठिकाने का खुलासा करने का फिलहाल यह उपयुक्त समय नहीं है.

अमेरिकी राजनयिक मिशन के मुताबिक शुक्रवार को रूस में अमेरिका के राजदूत माइकल मैकफॉल ने राष्ट्रपति के सहायक यूरी उशाकोव से मुलाकात कर दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों और स्नोडेन की स्थिति पर चर्चा की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *