पोर्न साइट पर बैन की तैयारी

नई दिल्ली | संवाददाता: अगर सब कुछ ठीक ठाक रहा तो केंद्र सरकार जल्दी ही इंटरनेट पर उपलब्ध पोर्न साइटों पर बैन लगाएगी. इन अश्लील वेबसाइटों पर प्रतिबंध के लिये सरकार गूगल और याहू समेत दूसरी संस्थाओं के साथ मिल बैठ राह निकालेगी. वैसे सरकार की मंशा है कि हिंदी और अंग्रेजी की ऐसी सभी पोर्न साइटों पर पूरी तरह से भारत में प्रतिबंध लगा दिया जाये.

गौरतलब है कि दिल्ली के गांधीनगर में 5 साल की बच्ची से गैंगरेप करने वाले मुख्य आरोपी मनोज ने कहा था कि वारदात से पहले उसने कई पोर्न क्लिप देखी थी, जिसके बाद उसने बच्ची से रेप की घटना को अंजाम दिया. मनोज के इस बयान के बाद से ही भारत की पोर्न वेबसाइटों पर प्रतिबंध लगाने की बात शुरु हो गई है.


मनोवैज्ञानिकों का कहना है कि इस तरह की अश्लील सामग्री परोसने वाली साइटों पर प्रतिबंध लगाया जाना जरुरी है क्योंकि इस तरह की साइटें कहीं न कहीं युवाओं को अपराध के लिये प्रेरित करती हैं. भारत में कम से कम ऐशी 546 साइट्स हैं, जो अश्लील सामग्री परोसती हैं.

हालांकि कुछ समाजसेवियों का कहना है कि पोर्न साइटों पर प्रतिबंध से कहीं ज्यादा जरुरी है कि सरकार शराब पर प्रतिबंध लगाये. आंकड़े बताते हैं कि 70 फीसदी मामलों में अपराध के लिये प्रेरित करने वाला कारक शराब ही रहा है. लेकिन समाजसेवियों की इन मांगों के सरकार नहीं मानेगी क्योंकि सरकार को शराब से अरबों रुपये का राजस्व प्राप्त होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!