रात 8 बजे फोन याने प्रधानमंत्री मोदी

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: प्रधानमंत्री मोदी मंत्रियों को रात 8 बजे फोनकर उनसे अपडेट लेते हैं. इसके लिये सभी मंत्रियों की नजर अपने फोन पर लगी रहती है. दिलचस्प बात यह है कि प्रधानमंत्री मोदी यह फोन मंत्रालय के लैंडलाइन पर करते हैं. इसलिये मंत्रियों को अकसर रात 8 बजे तक मंत्रालय में रहना पड़ता है.

हालांकि, प्रधानमंत्री मोदी इस प्रकार के फोन गृह मंत्री राजनाथ सिंह तथा वित्त तथा रक्षा मंत्री अरुण जेटली को नहीं करते हैं. उनसे मोदी अनौपचारिक रूप से बात कर लेते हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने गुजरात की तर्ज पर दिल्ली में भी काम-काज में कसावट लाने के लिये यह फोन करने का सिलसिला शुरु किया है.

इसका नतीजा भी सामने आ रहा है. बीते दिनों सड़क तथा परिवहन मंत्रालय में इस प्रकार का फोन गया था तथा पेंडिग पड़े योजनाओं की जानकारी विस्तार से ली गई थी. नतीजन, अगले तीन दिनों में कई योजनाओं को मंजूर कर लिया गया. गौरतलब है कि इस मंत्रालय में पेंडिग पड़े 20 हजार करोड़ रुपयों के योजनाओं की प्रधानमंत्री मोदी ने जानकारी ली थी.

मोदी ने मंत्रालय के काम-काज में कसावट के अलावा मंत्रियों को छूट दे रखी है कि कैबिनेट की बैठक में वे स्वंय भी मुद्दे उठा सकते हैं. इसके लिये कैबिनेट की बैठक में जीरो ऑवर की परंपरा का शुरुआत किया गया है. इस जीरो ऑवर में मंत्री कैबिनेट के सामने कोई भी मुद्दा रख सकते हैं जिसे उसके महत्व के हिसाब से चर्चा में शामिल कर लिया जाता है.

प्रधानमंत्री मोदी, गुजरात के मुख्यमंत्री रहने के दौरान भी इसी तरह से काम करते थे. उनकी खासियत है कि किसी भी फाइल को पेंडिग न रखते हुए उस पर निर्णय लिया जाये. प्रधानमंत्री मोदी को इस काम में उनके प्रमुख सचिव नृपेंन्द्र मिश्रा मदद करते हैं. अब पीएमओ में भी समय पर फाइले निपटा दी जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *