चायवाले से डरे राहुल: मोदी

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस के बारे में कहा है कि आये थे पीएम लेने लेकिन गैस सिलेंडर से संतोष करना पड़ा. दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय परिषद में बोलते हुए मोदी ने कहा कि 17 जनवरी को देशभर से कांग्रेसी इस उम्मीद से आये थे
कि राहुल गांधी को पीएम पद का उम्मीदवार घोषित किया जायेगा परन्तु उन्हें गैस सिलेंडर से संतोष करना पड़ा.

मोदी ने कांग्रेस के परंपरा पर सवाल उठाते हुए कहा कि जब इंदिरा गांधी की हत्या हुई थी तब राजीव गांधी कोलकाता में थे. वापस आने पर उन्हें प्रधानमंत्री बना दिया गया था. उन्होंने आगे कहा कि यूपीए-1 के समय सांसदों ने सोनिया गांधी को अपना नेता चुना था लेकिन सोनिया गांधी ने मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री के लिये चुन लिया. मोदी ने कटाक्ष किया कि हार के डर से कांग्रेस पीएम पद का उम्मीदवार घोषित करने से बच रही है.


कांग्रेस के राष्ट्रीय अधिवेशन में राहुल गांधी को पीएम पद का उम्मीदवार घोषित करने से सोनिया गांधी द्वारा रोकें जाने को उन्होंने एक मॉ की ममता बताया है. मोदी का कहना है कि जब मॉ को मालूम है कि हार निश्चित है तो वह अपने बेटे की बलि देने को कैसे
तैयार हो सकती है. मोदी ने आगे कटाक्ष किया की वे जिस परिवार में पले बढ़े हैं वह एक कुलीन परिवार है जिससे उनकी मानसिकता सामंतशाही हो गई है. वे कैसे एक चायवाले से भिड़ सकते हैं.

नरेन्द्र मोदी ने जनता से कहा कि कांग्रेसी राज में भारत के पूर्वोत्तर हिस्से का विकास नहीं हुआ है. पिछले दस वर्षो में रोज कोई न कोई कमेटी बनती रही है परन्तु काम कुछ नहीं हुआ है. भाजपा देश को काम करके दिखाएगी. मोदी ने कहा कि भाजपा कमेटी
नहीं काम में विश्वास रखती है. उन्होंने कहा कि पिछले 60 सालों से देश में शासकों का राज रहा है अब सेवक को मौका देना चाहिये, लोकतंत्र की यही मांग है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!