राहुल गांधी पीएम बनने को तैयार

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: तमाम अटकलों के बीच राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनने का संकेत दे दिया है. राहुल ने इस धारणा का भी खंडन किया कि वे शर्मीले राजनेता हैं. मंगलवार को एक समाचार पत्र में प्रकाशित एक साक्षात्कार में गांधी ने उल्लेख किया है कि उनकी पार्टी को 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद ‘देश हित’ में सत्ता में आना होगा.

गांधी ने कहा कि पार्टी को युवाओं से और ज्यादा जुड़ने की जरूरत है और यह भी कहा कि उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा चुनाव नहीं लड़ेंगी.


आम आदमी पार्टी के कुछ तरीकों से असहमति जताते हुए गांधी ने भारतीय जनता पार्टी की व्यक्तिवादी सत्ता की चाहत की भी आलोचना की.

उन्होंने जोर देकर कहा कि वे पार्टी द्वारा लिए जाने वाले फैसले को स्वीकार करने के लिए तैयार हैं.

उन्होंने कहा, “राष्ट्र के हित में यह आवश्यक है कि कांग्रेस सत्ता में लौटे. और इसके लिए संगठन मुझे जो भी जवाबदेही सौंपती है या भविष्य में देती है, मैं उसका पूरी क्षमता के साथ निर्वाह करूंगा.”

उन्होंने कहा, “हम लोकतांत्रिक संगठन हैं और हमारा लोकतंत्र में भरोसा है. भारत के लोग अपने जनप्रतिनिधियों के जरिए अपने प्रधानमंत्री का चुनाव करते हैं.”

एक अन्य सवाल के जवाब में राहुल ने कहा, “मैं कांग्रेस का एक सिपाही हूं. मुझे जो भी आदेश मिलेगा मैं उससे बंधा हुआ रहूंगा. कांग्रेस जो भी मुझे कहेगी मैं उसे पूरा करूंगा.”

कांग्रेस में राहुल को प्रधानमंत्री पद का प्रत्याशी बनाने की मांग ने जोर पकड़ लिया है. मीडिया में राहुल गांधी के प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनने की खबर के बाद कांग्रेसियों में उत्साह देखा जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!