रेल बजट: 8लाख करोड़ का निवेश

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: गुरुवार को लोकसभा में प्रस्तुत रेल बजट 2015-16 की मुख्य बातें इस प्रकार हैं : – आगामी पांच साल में 8.5 लाख करोड़ रुपये का निवेश,

रक्षा यात्रा प्रणाली का विकास किया गया,


– एसएमएस अलर्ट शुरू होगा,

– कागज रहित टिकट प्रणाली का विकास होगा,

– स्टेशन सफाई के लिए नया विभाग,

– कचड़े से बिजली पैदा करने वाले संयंत्र का होगा विकास,

– स्टेशनों के शौचालयों में सुधार की जरूरत, 650 अतिरिक्त शौचालय बनाए जाएंगे,

– आगामी पांच साल में 8.5 लाख करोड़ रुपये का निवेश,

– सुविधा सुधार पर 20,000 से अधिक सुझाव मिले,

– चार लक्ष्य : ग्राहक सुविधा में लगातार सुधार, रेल को यात्रा को सुरक्षित माध्यम बनाना, व्यापक विस्तार, भारतीय रेल को आत्म-निर्भर बनाना,

– रेल राष्ट्रीय संपर्क की रीढ़,

– दूर दराज क्षेत्रों में संपर्क बढ़ाने के लिए निजी क्षेत्रों से भागीदारी,

– रेल आधुनिक भारत का एकीकरणकर्ता,

– पिछले कई दशकों से इसकी सुविधाओं में सुधार नहीं,

– निवेश अभाव का दुष्चक्र समाप्त होना चाहिए,

– नेटवर्क में 1,219 सेक्शन- अधिकतर पर कार्य का काफी दबाव,

– आगामी पांच साल में क्षमता विस्तार की मंशा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!