रेलवे की कमाई जनता की तकलीफ बढ़ेगी

बिलासपुर | संवाददाता: रेल मंत्रालय आरएसी कोटे में 50 फीसदी की बढ़ोतरी करने जा रहा है. एकबारगी तो यह लगेगा कि इससे ज्यादा यात्रियों को सफर करने की सुविधा मिलेगी. असल में इसके उलट, रेलवे की कमाई बढ़ेगी तथा यात्रियों की तकलीफें. आइयें इसे समझने की कोशिश करते हैं. सूत्रों की माने तो इस बारें में रेलवे के डायरेक्टेर पैसेंजर मार्केटिंग विक्रम सिंह द्वारा आदेश भी जारी कर दिया गया है.

ट्रेनों में स्लीपर क्लास, एसी थर्ड तथा एसी सेकेंड में साइड बर्थ में से कुछ में रिजर्वेशन अगेंस्ट कैसेलेशन दिया जाता है. जिसके तहत एक साइड बर्थ में दो यात्री बैठकर यात्रा करते हैं परन्तु रेलवे इनसे पूरा किराया वसूलता है.


रेलवे की नई तरकीब के अनुसार स्लीपर क्लास की 1 बोगी में 14, थर्ड एसी में 8 और सेकेंड एसी में 6 सीटें आरएसी होंगी. इस तरह से रेलवे को किराया तो पूरा मिलेगा वह भी दो लोगों का परन्तु यात्रियों को पूरा किराया देकर भी आधी सीट ही मिलेगी.

इस तरह से बिना किराया बढ़ाये भी रेलवे की कमाई बढ़ाई जा सकती है. अब तो आप मान गये होंगे कि रेलवे के अफसरान रेलवे का कितना भला चाहते हैं.

यदि रेलवे को यात्री सुविधा बढ़ानी है तो बोगियों की संख्या तथा नई ट्रेनों के माध्यम से इसे किया जा सकता था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!