सिमी ने तैयार किए सात मानव बम

रायपुर | संवाददाता: रायपुर से पकड़ाए सिमी के कथित आतंकी उमेर सिद्दीकी ने पटना ब्लास्ट के मास्टरमाइंड हैदर और अबु फैज़ल के साथ मिलकर सात युवकों को मानव बम बनने की ट्रेनिंग दी थी.

पुलिस ने इनमें से चार को गिरफ्तार करने का दावा किया है जबकि तीन अन्य को फरार बताया हैं. पुलिस का कहना है कि सिमी कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तार मानव बम ट्रेनिंग प्राप्त आतंकियों की पहचान कर ली है.


आईजी जीपी सिंह ने दावा किया है कि सिमी के गिरफ्तार कार्यकर्ता अब धीरे-धीरे इस प्रतिबंधित संगठन के नापाक इरादों और हरकतों की पोल खोल रहे हैं. उन्होंने कहा कि इन कार्यकर्ताओं ने कई महत्वपूर्ण जानकारी पुलिस को दी है.

पुलिस के अनुसार पटना ब्लास्ट के मास्टरमाइंड फरार आतंकी हैदर उर्फ अबदुल्ला और अबु फैज़ल की मदद से रायपुर में सिमी के आतंकी मॉड्यूल के प्रमुख उमेर सिद्दीकी के साथ मिलकर राज्य के सात युवकों को मानव बम बनने की ट्रेनिंग दी थी. सिमी की मंशा किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की थी लेकिन एंटी टेररिस्ट स्कवॉड द्वारा संगठन के आठ कार्यकर्ताओं गिरफ्तार किए जाने से उनके इरादों पर पानी फिर गया.

बताया जा रहा है कि अब पुलिस यह जाँच करने में भी जुटी है कि सिमी आतंकियों को राज्य में विस्फोटक की स्पलाई कहां से होती है.

माना जा रहा है कि पुलिस को इस बात का अंदेशा लगा है कि राज्य के कुछ बड़े व्यवसायियों ने इसके लिए सिमी को पैसा उपलब्ध कराया है, हालांकि इस बारे में कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!