राज ठाकरे का आंदोलन खत्म

मुंबई | संवाददाता: महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे को पुलिस ने रिहा कर दिया है. महाराष्ट्र में टोल टैक्स के विरोध में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना का राज्यव्यापी ‘रास्ता रोको’ अभियान बुधवार से शुरू हो गया है. इसके बाद पुलिस ने राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति को देखते हुये ठाकरे को धरा था.बाद में राज ठाकरे ने अपना आंदोलन खत्म करने का ऐलान किया, जिसके बाद ठाकरे को पुलिस ने छोड़ दिया.

राज ठाकरे ने कुछ दिन पहले टोल टैक्स का विरोध करने का आह्वान किया था और कई टोल नाकों पर तोड़फोड़ करते हुये राज्य भर में हंगामा मचा दिया था. इसके बाद पुलिस ने राज ठाकरे को मंगलवार को एक नोटिस जारी कर किसी भी ऐसी गतिविधि से दूर रहने को कहा था जिससे क़ानून व्यवस्था की समस्या पैदा हो. ठाकरे के अलावा मुंबई के पुलिस स्टेशनों ने सोमवार से ही मनसे नेताओं और कार्यकर्ताओं को नोटिस देने शुरू कर दिए थे. जिसमें कहा गया है कि अगर मनसे कार्यकर्ता किसी अवैध गतिविधि में लिप्त पाए जाते हैं तो उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाएगी.

राज ठाकरे ने 26 जनवरी को नवी मुंबई में कहा था कि किसी भी हालत में टोल टैक्स का भुगतान न करें चाहे इसके लिए उन्हें हिंसा ही क्यों न करनी पड़े. इसके बाद अभी रविवार को ठाकरे ने एक जनसभा में कहा था कि जब तक सरकार टोल संग्रह को पारदर्शी नहीं बनाती तब तक वह आंदोलन जारी रखेंगे.

मुंबई-नवी मुंबई सीमा स्थित वाशी टोल चौकी पर टोल कर संग्रह रूकवाने जा रहे ठाकरे के काफिले को पुलिसकर्मियों की एक टीम ने बीच में ही रोक लिया. वहीं, मनसे प्रमुख की पत्नी शर्मिला ठाकरे वरिष्ठ नेताओं की गिरफ्तारी के विरोध में चेंबूर पुलिस स्टेशन के बाहर धरने पर बैठ गई थी.

मनसे नेताओं की गिरफ्तारी के बाद गृह मंत्रालय ने कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए राज्य की सभी महत्वपूर्ण जगहों पर सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश दे दिए थे.

मनसे की महिला इकाई की प्रतिनिधियों सहित इसके कार्यकर्ता सुबह के भागदौड़ भरे समय में सड़कों को अवरुद्ध करने के लिए मुंबई, ठाणे, पुणे, रायगढ़, नासिक और अन्य क्षेत्रों के बाहरी इलाकों के मार्गो और राजमार्गो पर जमा हो गए.कुछ इलाकों में यातायात बाधित करने के उद्देश्य से वाहनों के टायरों को आग लगा दी गई. मनसे कार्यकर्ताओं को रोकने और हिरासत में लेने के लिए पुलिस के साथ रैपिड एक्शन फोर्स भी सड़कों पर उतरी हुई थी. राज्यभर के 145 टोल बूथों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *