पहले superstar राजेश खन्ना

नई दिल्ली | मनोरंजन डेस्क: राजेश खन्ना बॉलीवुड के पहले सुपरस्टार थे. वैसे आजकल तो बॉलीवुड के हर बड़े कलाकार को सुपरस्टार कहा जाता है जिसमें सलमान खान से लेकर रजनीकांत का नाम शामिल है. एक समय ऐसा था जब केवल राजेश खन्ना के सिर पर सुपर स्टार का ताज जगमगाया करता था. फिल्म जगत में 1969 से 1971 के दशक में लगातार 15 हिट फिल्में देने वाले दिवंगत अभिनेता राजेश खन्ना का रिकॉर्ड अब भी बरकरार है. 1966 में रिलीज हुई फिल्म ‘आखिरी खत’ से बॉलीवुड में कदम रखने वाले अभिनेता ने अपने फिल्मी करियर में 160 फीचर फिल्म और 17 लघु फिल्मों में काम किया.

तीन बार अपनी बेहतरीन अदाकारी के लिए फिल्मफेयर के सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार जीतने वाले राजेश खन्ना का जन्म 29 दिसंबर,1942 में अमृतसर में हुआ था. हालांकि, राजेश को उनके जैविक माता-पिता के रिश्तेदार चुन्नी लाल खन्ना और लीला वती खन्ना ने पाला-पोसा. उनके असली माता-पिता का नाम लाला हीरानंद और चंद्रानी खन्ना था.


सेंट सेबेस्टियन गोवा हाई स्कूल से जीतेंद्र के साथ स्कूल की पढ़ाई खत्म करने के बाद राजेश ने थियेटर का रुख किया. अपने स्कूल और कॉलेज के दिनों में उन्होंने कई नाटकों में अपने अभिनय के दम पर पुरस्कार भी जीते.

राजेश की एक खास बात यह भी थी कि वह उन कम लोगों में से थे, जो 1960 के दशक में अपनी नई एमजी स्पोर्ट कार से थियेटर पहुंचते थे.

राजेश की 15 हिट फिल्मों में ‘अराधना’, ‘इत्तेफाक’, ‘डोली’, ‘बंधन’, ‘दो रास्ते’, ‘द ट्रेन’, ‘सच्चा झूठा’, ‘सफर’, ‘कटी पतंग’, ‘आन मिलो सजना’, ‘आनंद’, ‘मर्यादा’, ‘हाथी मेरे साथी’, ‘अमर प्रेम’, ‘अंदाज’, ‘दुश्मन’ और ‘अपना देश’ शामिल है.

राजेश को दिग्गज फैशन डिजाइनर और अभिनेत्री अंजू महेंद्रू से प्यार हुआ था, लेकिन सात साल तक कायम इस रिश्ते के टूटने के बाद वे 17 साल तक एक-दूसरे के संपर्क में नहीं रहे. इस बीच, अभिनेता ने मार्च, 1973 में अभिनेत्री डिंपल कपाड़िया से शादी कर ली.

डिंपल से राजेश की दो बेटिया हैं- ट्विंकल और रिंकी खन्ना. ट्विंकल ने भी अपने फिल्मी करियर के दौरान कई सफल फिल्में की और बाद में अभिनेता अक्षय कुमार से शादी कर ली. वहीं, रिंकी को फिल्मों उतनी सफलता हासिल नहीं हुई.

जून, 2012 में राजेश की तबीयत बिगड़नी शुरू हो गई. 23 जून को उन्हें लीलावती अस्पताल में भर्ती किया गया. हालांकि, स्वास्थ्य ठीक होने के बाद उन्हें आठ जुलाई को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

जिंदादिली की पहचान रहे अभिनेता राजेश ने राजनीति में भी हाथ आजमाया.

राजेश को तबीयत बिगड़ने के कारण 14 जुलाई को फिर लीलावती अस्पताल में भर्ती किया गया और 16 जुलाई को घर लाया गया. फिल्मों में अपनी अदाकारी से लोगों को भावुक कर उनके दिलों में छाप छोड़ने वाले इस अभिनेता ने 18 जुलाई, 2012 को अपने घर आशीर्वाद में अंतिम सांस ली.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!