जेठमलानी भाजपा से बाहर

नई दिल्ली | संवाददाता: भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ अपनी बयानबाजी के लिये मशहूर सांसद व वकील राम जेठमलानी को पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखा दिया है. भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने उन्हें पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित करने का फैसला किया. अब से वह राज्यसभा के निर्दलीय सदस्य रहेंगे.

गौरतलब है कि राम जेठमलानी पार्टी में नरेंद्र मोदी के प्रशंसक माने जाते हैं और उन्होंने तत्कालीन पार्टी अध्यक्ष नितिन गडकरी का इस्तीफा भी मांगा था. जेठमलानी ने कहा था कि गडकरी ने जिस तरह से भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया है, उससे भारतीय जनता पार्टी में कोई बेहतर संदेश नहीं जा रहा है. इसके बाद उन्होंने यह भी कहा था कि भारतीय जनता पार्टी अपने विरोधी कांग्रेस के यूपीए गठबंधन को लेकर उदार है.


समय-समय पर भारतीय जनता पार्टी को संकट में डालने वाले राम जेठमलानी को लेकर भाजपा पहले से ही कार्रवाई के मूड में थी और उन्हें पार्टी ने निलंबित कर दिया गया था. लेकिन अब भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने राम जेठमलानी को 6 साल के लिये पार्टी से निकालने की घोषणा की है. इधर राम जेठमलानी ने कहा है कि वह भारतीय जनता पार्टी के इस कदम को अप्रत्याशित नहीं मान रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!