सोनिया ताड़का की अवतार-रामदेव

नई दिल्ली | संवाददाता: बाबा रामदेव अब अपने असली तेवर में हैं. उन्होंने सोनिया गांधी को पूतना और ताड़का का आधुनिक अवतार बताते हुये कहा है कि गांधी खानदान के लिये बाबा रामदेव और नरेंद्र मोदी मौत की तरह हैं. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के महासचिव बनने पर राहुल और सोनिया गांधी इसलिये रोये थे क्योंकि उन्हें सपने में रामदेव और मोदी नजर आ गये थे.

दिल्ली के एक अखबार से बातचीत में बाबा रामदेव आज जम कर भड़के. उन्होंने कहा कि इस देश में सारी बुराइयों की जड़ और इस देश के विनाश का मूल गांधी खानदान है. गांधी खानदान को लगता है कि उनके लिए बाबा रामदेव और नरेंद्र मोदी मौत हैं. जबसे मैंने मोदी को अपने यहां मंच पर बुलाया है, तब से सपने में भी उन्हें रामदेव और मोदी दिखाई देते हैं.


सोनिया गांधी ताड़का और पूतना की आधुनिक अवतार बताते हुये बाबा रामदेव ने कहा कि हिंदुस्तान और हिंदुस्तानियत से, भारत-भारतीयता से, अपनी देव संस्कृति-ऋषि संस्कृति से भयंकर नफरत है. यह भारत का विनाश करने वाली औरत हैं. भारत की संस्कृति क्या है यह इटली के लोग तय करेंगे? यह रोम का पोप निश्चित करेगा? यह ओम का देश है, पोप का नहीं है.

बाबा रामदेव ने कहा कि नरेंद्र मोदी को सांप्रदायिक बताने का किसी के पास ठेका नहीं है. कौन सांप्रदायिक है और कौन गैर-सांप्रदायिक, इसका सर्टिफिकेट क्या कांग्रेस मुख्यालय से इशू होता है? या उसका सर्टिफिकेट इटली से इशू होता है? क्या सोनिया गांधी इसका सर्टिफिकेट इशू करेंगी?

बाबा रामदेव ने राहुल गांधी को सलाह देते हुये कहा कि वे अगर रामदेव की सलाह मान लेंगे तो उनका भला हो जाएगा. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी नाबालिगपना छोड़े दें. अपना गुरु चेंज करें. गुरुघंटाल के बजाए कोई एक अच्छा सदगुरु ले ले. फिलहाल जहां से भी उन्हें निर्देशन दिया जा रहा है, वहां से उन्हें गलत फीडिंग हो रही है.

बाबा रामदेव ने कहा कि राहुल गांधी राजा-रानियों के चक्कर में न पड़ें. यह देश अब राजा-रानियों का नहीं है. राहुल गांधी हिंदू, हिंदुत्व, भारत और भारतीयता, इनसे नफरत करना बंद करें. धर्म परिवर्तन के काम में सहयोग करना बंद करें.

रामदेव ने आरोप लगाया कि राहुल गांधी लोकतंत्र को गांधी परिवार बंधक न बनाए और तानाशाही पर उतारू न हो. 1975 में राहुल की दादी इंदिरा गांधी भी तानाशाही पर उतारू हुई थीं, अब यह लोग यानी सोनिया-राहुल तानाशाही पर न उतरें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!