संदिग्ध रूप से लापता हुआ बच्चा

रतनपुर | उस्मान कुरैशी: शनिवार की दोपहर से 10 वर्षीय बालक संदिग्ध परिस्थितियों में लापता है. परिजनों के संदेह पर थाना रतनपुर में अपहरण का अपराध दर्ज कर पुलिस मामले की विवेचना में जुटी है.

रतनपुर नगर पंचायत क्षेत्र के खंडोबा मंदिर के पास लतेलराम रात्रे अपने परिवार के साथ रहता है. शनिवार की दोपहर लतेल की पुत्री ज्योति अपनी सहेली के साथ मामा के घर बुक लेने निकली. उसके पीछे उसका छोटा भाई हरिशंकर उर्फ छोटू भी आने लगा. पीछे आ रहे छोटू को ज्योति ने डांटकर भगा दिया. कुछ देर बाद जब ज्योति मामा के घर से लौटी तो मां से भाई के बारे में पूछा. मां ने बताया कि हरिशंकर घर में था कुछ देर पहले दो रूपए लेकर खाई खाने घर से निकला है.


समीप के दुकानदार ने भी बच्चे के खाई लेने आने की पुष्टि की. दोपहर साढ़े तीन बजे के लगभग छोटू बहन को तलाशते पहाड़ी पर लखनीदेवी मंदिर भी गया. बहन के नही मिलने पर वह मंदिर के एक पुजारी के साथ सीढ़ी से नीचे भी उतरा. शाम तक बच्चे के घर नही लौटने पर परिजनों ने आसपास परिजनों व रिश्तेदारों के यहां तलाश की. कही पता नही चलने पर अपहरण की आशंका जताते घटना की रिपोर्ट रतनपुर थाना में दर्ज कराई है.

ज्योति का कहना है कि शनिवार की दोपहर भाई के मोबाईल पर एक काल आया था जिसमें पूछने पर उसने अपने को पत्रकार हूं कह के अपना नाम राकेश बताया. उसने अपने को आदर्श मोहल्ला कुकदा निवासी बताते हुए धमकी दी मै तुम्हारे परिवार को जानता हूं. तुम्हारी बहन स्कूल जाती है वहां से उठा लूंगा. मेरे पास बहुत से गुंडे है.

ज्योति ने दो युवकों को घर के पास मोटर सायकल से घूमते हुए देखने की बात भी कही. पुलिस मोबाईल से धमकी की बातों को गंभीरता से नही ले रही है. घटना पर रतनपुर थाना में भारतीय दंड संहिता की धारा 363 के तहत अपराध दर्ज किया गया है. मामले पर एसडीओपी कोटा विभोर सिह का कहना है कि पुलिस इसे अपहरण नही मान रही. घर वालों के बताए अनुसार बालक चंचल प्रवृत्ति का था. अकेले घूमता रहता था. यहां आस पास पतासाजी की जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!