‘एक दूजे के लिए’ के बालचंदर नहीं रहें

चेन्नई | मनोरंजन डेस्क: हिन्दी सिनेमा जगत को फिल्म ‘एक दूजे के लिए’ जैसे फिल्म देने वाले तमिल फिल्कार के. बालचंदर का मंगलवार को निधन हो गया. इसी फिल्म ‘एक दूजे के लिए’ के बाद से तमिल अभिनेताओं का बालीवुड में आना शुरु हो गया. उन्हें कमल हासन को हिन्दी फिल्मों में लाने का श्रेय दिया जाता है. बालचंदर ने ही रजनीकांत जैसे कलाकार को फिल्मी दुनिया में स्थापित किया था. लोकप्रिय तमिल फिल्कार के. बालचंदर का मंगलवार को यहां निधन हो गया. वह 84 वर्ष के थे. वह पिछले कुछ दिनों से अस्पताल में भर्ती थे.

बालचंदर के मैनेजर ने कहा कि उन्हें पिछले सोमवार को कावेरी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. उनके मूत्राशय में संक्रमण था और वृद्धावस्था संबंधित अन्य बीमारियां भी थीं.


मैनेजर ने इस खबर की पुष्टि की. उन्होंने कहा, “बालचंदर सर नहीं रहे. पिछले कुछ दिनों से उनमें अच्छा सुधार हो रहा था, लेकिन आज सुबह उनकी तबीयत बिगड़ गई.”

बालचंदर के खाते में 150 से अधिक फिल्में हैं, जिसमें ‘अवल ओरा थोडार काथै’, ‘अवरगल’, ‘वरुमायिन निरम सिगप्पू’ और ’47 नटकल’ शामिल हैं.

उन्होंने फिल्म जगत को कमल हासन, रजनीकांत, सरिता और प्रकाश राज जैसी प्रतिभाएं भी दी है. कुछ ही माह पहले उनके लडंके बाला कैलासम की मृत्यु हो गई थी.

Director K. Balachander Passed Away In Chennai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!