‘गांधी’ के निर्देशक रिचर्ड एटेनबरा नहीं रहे

लंदन | समाचार डेस्क: ‘गांधी’ फिल्म के लिए मशहूर ऑस्कर विजेता ब्रिटिश फिल्म निर्देशक रिचर्ड एटेनबरा का रविवार को निधन हो गया. वह 90 साल के थे. ‘बीबीसी’ के मुताबिक, सफल निर्देशक बनने से पहले रिचर्ड ब्रिटेन के शीर्ष अभिनेताओं में से एक थे. बतौर निर्देशक उन्हें ‘गांधी’ फिल्म के लिए खास तौर से जाना जाता है. इस फिल्म को ऑस्कर के दो पुरस्कार मिले थे. इस फिल्म में रोहिणी हट्टंगरी, ओमपुरी, अलिक पदमसी, आलोक नाथ और रोशन सेठ जैसे कई भारतीय कलाकारों ने भूमिका निभाई थी.

अपने छह दशकों से अधिक समय के करियर में रिचर्ड ने ‘ब्राइटन रॉक’, ‘द ग्रेट इस्केप’ और ‘जुरासिक पार्क’ जैसी फिल्मों में अभिनय किया.


गांधी फिल्म में मुख्य भूमिका निभाने वाले सर बेन किंग्सले ने उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि वह उनकी कमी महसूस करेंगे. किंग्सले ने कहा, “रिचर्ड एटेनबरा मुझ पर बहुत भरोसा करते थे.”

उन्होंने बताया, “जब उन्होंने मुझे गांधी का किरदार दिया था, तो मैं बहुत खुश हुआ था. उन्होंने मुझे विश्वास के साथ यह किरदार दिया था और मैंने उसे पूरा भी किया था. उनके प्रति मेरा प्रेम और बढ़ गया था.”

रिचर्ड कई सालों से अपनी पत्नी के साथ एक नर्सिगहोम में थे. छह साल पहले सीढ़ियों से गिर जाने के बाद से वह व्हीलचेयर पर रहते थे.

रिचर्ड को श्रद्धांजलि देते हुए प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने ट्विटर पर लिखा है, “फिल्म ‘ब्राइटन रॉक’ में उनका अभिनय बेहतरीन था, ‘गांधी’ में उनका निर्देशन शानदार था. रिचर्ड एटेनबरा सिनेमा की महान हस्तियों में से एक थे.”

अभिनेत्री मिया फेरो ने ट्वीट किया, “मैंने अपने काम की यात्रा में जितने लोगों के साथ काम किया है, उनमें रिचर्ड एटेनबरा सबसे बेहतरीन थे. वह राजकुमार थे. आपको श्रद्धांजलि और शुक्रिया.”

रिचर्ड चेल्सियसा फुटबाल क्लब के आजीवन अध्यक्ष भी थे. क्लब ने कहा, “उन्होंने एक लंबा और सफल जीवन जिया और उन चीजों के लिए हमेशा वक्त निकालते थे, जो उन्हें पसंद थीं, उनमें से एक चेल्सियस एफ सी भी था.”

अभिनेता आलोक नाथ उस समय बिल्कुल नए थे, जब उन्होंने रिचर्ड एटेनबरा की 1982 में आई ‘गांधी’ फिल्म में एक मिनट का किरदार किया था. आलोक के अनुसार, एटेनबरा एक महान व्यक्ति थे, जिन्हें भारतीय संस्कृति से प्यार था. एटेनबरा का लंबी बीमारी के बाद रविवार रात निधन हो गया. वह 90 साल के थे.

एटेनबरा से जुड़ी बातें याद करते हुए आलोकनाथ ने कहा, “उनकी फिल्म में मुझे एक मिनट का किरदार मिला था, लेकिन उनके साथ हुई मेरी बातचीत बहुत यादगार है. बतौर निर्माता वह भारतीय संस्कृति से प्यार करते थे. हमारे लिए एटेनबरा वह व्यक्ति थे जिन्होंने महात्मा गांधी को फिर से हमारे सामने खड़ा कर दिया. इससे पहले किसी भारतीय ने ऐसा नहीं किया था.”

‘गांधी’ से फिल्मों में आगाज करने वाले आलोक ने कहा, “वह शानदार अभिनेता, निर्देशक और महान व्यक्ति थे.”

बॉलीवुड की हस्तियों ने ट्विटर पर एटेनबरा को श्रद्धांजलि दी.

अनिल कपूर : मैंने महात्मा के बारे में स्कूल की इतिहास की किताबों से ज्यादा, एटेनबरा की फिल्म ‘गांधी’ से जाना.

अनुपम खेर : रिचार्ड एटेनबरा सर के लिए ‘गांधी’ की कास्टिंग के समय से ही मन में सम्मान है. वह अनोखे इंसान और महान निर्देशक थे. श्रद्धांजलि.

शोभ डे : रिचर्ड एटेनबरा ने दुनिया को बताया कि एक महात्मा वास्तव में पृथ्वी पर आए थे.

राकेश ओमप्रकाश मेहरा : सिनेमा की महान हस्तियों में से एक लॉर्ड एटेनबरा नहीं रहे. वह हमेशा लोगों के दिलों में जिंदा रहेंगे.

सुजीत सरकार : एकमात्र जीवनी आधारित फिल्म जिस पर हमें गर्व है, ‘गाांधी’ के निर्देशक रिचर्ड एटेनबरा का 90 वर्ष की अवस्था में निधन हो गया. उन्हें श्रद्धांजलि.

संजय गुप्ता : उन्होंने मेरी पसंदीदा भारतीय फिल्म ‘गांधी’ बनाई. लॉर्ड रिचर्ड एटेनबर्ग का 90 साल की उम्र में निधन हो गया. श्रद्धांजलि.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!