‘दम लगाके हईशा’ का ‘नसीब..’ अच्छा: ऋषि कपूर

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: फिल्म ‘दम लगाके हईशा’ इस लिये ऋषि कपूर को बेहतर लगी क्योंकि उसका ‘नसीब’ अच्छा है. अन्यथा कई सालों से फ्रेम से गायब ऋषि कपूर क्यों उसे अपनी फिल्म से बेहतर बताते. पारिवारिक पृष्ठभूमि पर बनी फिल्म ‘दम लगाके हईशा’ में कुछ तो ‘दमदार’ है जो ऋषि कपूर अपने पुराने दिनों की यादों तक ले जाती है. इसी कारण अपने जमाने के मशहूर अभिनेता ऋषि कपूर को आयुष्मान खुराना अभिनीत ‘दम लगाके हईशा’ देखकर अपनी 1986 की फिल्म ‘नसीब अपना अपना’ याद आ गई. ऋषि को ‘दम लगाके हईशा’ ज्यादा बेहतर लगी. ऋषि ने रविवार को ट्विटर पर लिखा, “फिल्म ‘दम लगाके हईशा’ मेरी फिल्म ‘नसीब अपना अपना’ का बेहतर रूप है. ऊपर उठी हुई चोटी वाली ग्रामीण लड़की याद है, जिससे मुझे फिल्म में शादी करने के लिए मजबूर किया गया था.”

ऋषि ने अपनी उस फिल्म की तस्वीरें पोस्ट की और लिखा, “देखिए ऊपर उठी हुई चोटी. यह ‘नसीब अपना अपना’ है. राधिका, फरहा नाज और मैं. फिल्म सफल थी.”


‘दम लगाके हईशा’ और ‘नसीब अपना अपना’ दोनों में ही परिवार नायक को शादी करने के लिए मजबूर कर देते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!