दक्षिण अफ्रीका ने जीती वनडे श्रृंख्ला

जोहानिसबर्ग | एजेंसी: भारत और दक्षिण अफ्रीका की क्रिकेट टीमों के बीच सुपर स्पोर्ट मैदान पर बुधवार को खेला गया तीसरा एकदिवसीय मुकाबला बारिश की आंखमिचौली के बीच रद्द कर दिया गया. दक्षिण अफ्रीका ने तीन मैचों की श्रृंखला 2-0 से अपने नाम कर ली. दक्षिण अफ्रीका ने क्विंटन डी कॉक (101) के करियर के चौथे और लगातार तीसरे शतक तथा अब्राहम डिविलियर्स (109) की कप्तानी पारी की बदौलत दक्षिण अफ्रीकी टीम ने भारत के सामने 302 रनों का लक्ष्य रखा था.

भारतीय पारी अभी शुरू ही होती कि जोरदार बारिश आ धमकी. कई मौकों पर बारिश रुकी और मैच शुरू होने के आसार बने. शाम 7.50 पर मैदान का निरीक्षण करने का फैसला किया गया और फिर 8.45 पर मैच शुरू करने की घोषणा हुई लेकिन बारिश फिर आ धमकी. अब खेल के लायक स्थिति नहीं था, लिहाजा इस मैच को रद्द कर दिया गया.


मैच रद्द होने के बावजूद इसमें बने रिकार्ड कायम रहेंगे. कॉक का लगातार तीसरा शतक लगाने का रिकार्ड और भारतीय गेंदबाज इशांत शर्मा का 40 रनों पर चार विकेट लेने का आंकड़ा रिकार्डबुक में दर्ज रहेगा. कॉक को मैन ऑफ द सीरीज चुना गया. कॉक ने इस श्रृंखला में 101, 106 और 135 रनों की पारियां खेलीं.

बहरहाल, दक्षिण अफ्रीकी पारी पर नजर डालें तो टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए मेजबानों ने 50 ओवरों में आठ विकेट पर 301 रन बनाए. कॉक ने 120 गेंदों की पारी में नौ चौके और दो छक्के लगाए जबकि कप्तान ने 101 गेंदों पर छह चौके और पांच छक्के लगाए. कॉक और कप्तान ने चौथे विकेट के लिए 171 रनों की उपयोगी साझेदारी निभाई.

मेजबान टीम ने एक समय 28 रनों पर ही अपने तीन विकेट गंवा दिए थे. हाशिम अमला 13, हेनरी डेविड्स एक और ज्यां पॉल ड्यूमिनी खाता खोले बगैर पवेलियन लौटे. इशांत शर्मा ने एक ही ओवर में डेविड्स और ड्यूमिनी को चलता किया.

इसके बाद कॉक और कप्तान ने शतकीय साझेदारी निभाई. इस साझेदारी के दौरान ही कॉक लगातार तीन एकदिवसीय मैचों में शतक लगाने वाले पांचवें और सबसे युवा बल्लेबाज बने.

इससे पहले पाकिस्तान के जहीर अब्बास, पाकिस्तान के ही सईद अनवर, दक्षिण अफ्रीका के हर्शेल गिब्स और अब्राहम डिविलियर्स ने यह कारनामा किया है. कॉक यह करनामा करने वाले दक्षिण अफ्रीका के तीसरे और पहले विकेटकीपर हैं.

जहीर ने 1982 और 1983 में भारत के खिलाफ मुल्तान में 118, लाहौर में 105 और कराची में 113 रनों की पारी खेली थी. इसके बाद यह कारनामा अनवर ने किया था. अनवर ने 1993 में और गिब्स ने 2002 में लगातार तीन शतक लगाए थे.

कॉक से ठीक पहले यह कारनामा डिविलियर्स ने 2010 में किया था. उन्होंने ग्वालियर में भारत के खिलाफ नाबाद 114 रन, अहमदाबाद में भारत के खिलाफ नाबाद 102 रन और फिर नार्थ साउंड में वेस्टइंडीज के खिलाफ 102 रन बनाए थे.

कॉक का विकेट 199 के कुल योग पर गिरा. उनका विकेट इशांत को मिला. उनकी विदाई के बाद कप्तान ने डेविड मिलर (नाबाद 56) के साथ पांचवें विकेट के लिए तेजी से 53 रन जोड़े. डिविलियर्स का विकेट 252 रनों के कुल योग पर गिरा. उन्हें उमेश यादव ने चलता किया.

मिलर ने 34 गेंदों की नाबाद पारी में पांच चौके और तीन छक्के लगाए और अपनी टीम को 300 के पार पहुंचाया. भारत की ओर से इशांत ने चार विकेट लिए जबकि मोहम्मद समी को तीन सफलता मिली. एक विकेट उमेश को मिला.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!