सलमान अभी जेल नहीं जायेंगे

नई दिल्ली | मनोरंजन डेस्क: 2002 के ‘हिट एंड रन’ मामले में आज फैसला चाहे कुछ भी हो सलमान खान जेल नहीं जायेंगे. ऐसा फिल्मी दुनिया के कई जानकारों का मत का है भारतीय न्याय प्रक्रिया के धीमी गति के आधार पर. सलमान को बुधवार को सजा होने पर भी उन्हें जमानत मिल सकती है तथा उच्च न्यायालय में जाने का रास्ता उनके लिये खुला हुआ है. एक आम आदमी को अदालती फैसले के लिये वकीलों की फीस देते-देते पसीना आ सकता है परन्तु प्रति फिल्म के लिये 65-75 करोड़ रुपये लेने वाले सलमान खान को इसमें दिक्कत क्या है. जाहिर है कि कानून के लिये सभी बराबर होने के बावजूद ज्यादा खर्च करने की कुवत रखने वाले इसकी सजा को कई सालों तक लटकाये रख सकते हैं.

उदाहरण के तौर संजय दत्त का मामला देखें उन्हें 1993 मुंबई बम धमाकों के मामले की सुनवाई विशेष टाडा अदालत में 30 जून 1995 को शुरू हुई. करीब 12 साल बाद 18 मई 2007 को इस मामले की सुनवाई खत्म हुई. संजय दत्त टाडा के आरोपों से तो बरी हो गए लेकिन उन्हें आर्म्स एक्ट के तहत 6 साल की सजा सुनाई गई थी. पहली बार संजय दत्त 19 अप्रैल 1993 को जेल गए थे. लेकिन 18 दिन के अंदर ही उनको जमानत भी मिल गई थी. 5 मई को संजय दत्त को जमानत मिली. इसके बाद ससंजय दत्त कई बार जेल गये तथा जमानत पर रिहा रहें. आखिरकार उन्हें पिछले साल जेल की सजा मिली. आज वर्ष 2002 के हिट एंड रन मामले में कई उतार-चढ़ाव के बाद सुपरस्टार सलमान खान पर फैसला आने वाला है. सलमान पर 200 करोड़ रुपये दांव पर लगे हैं.


यदि उन्हें दोषी नहीं ठहराया गया तो यह उनकी धमाकेदार वापसी होगी. लेकिन यदि सत्र अदालत ने उन्हें अपराधी घोषित कर दिया तो भी सलमान पर 200 करोड़ रुपये दांव पर लगने के बावजूद फिल्म उद्योग जगत अधिक चिंतित नहीं होगा, क्योंकि इसका श्रेय भारत में कानूनी प्रक्रियाओं के धीमे कामकाज को जाता है.

उद्योग विशेषज्ञ अमोद मेहरा ने कहा कि फिलहाल कोई भी सलमान के जल्द जेल की सलाखों के पीछे होने के बारे में नहीं सोच सकता.

मेहरा ने कहा, “फिल्म जगत में कोई डर नहीं है. इसका श्रेय भारत के कानून को जाता है, क्योंकि हम सभी जानते हैं कि इससे बचने के कई अन्य रास्ते हैं, जैसे जमानत. इसलिए फिलहाल, सलमान की गिरफ्तारी को लेकर डरने की जरूरत नहीं है.”

इसी तर्ज पर अन्य विशेषज्ञ विनोद मिरानी का कहना है कि यदि अदालत उन्हें सजा भी सुना देती है तो भी सलमान जल्दी जेल जाने वाले नहीं है.

मिरानी ने कहा, “यदि फैसला सलमान के पक्ष में नहीं आता, तो वह उच्च न्यायालय में अपील करेंगे. इतनी जल्दी कोई जेल नहीं जाता. वह उच्च न्यायालय में अपील करेंगे, इसके बाद वह अदालत अपनी कार्यवाही शुरू करेगी, जिसमें यकीनन समय लगेगा.”

सलमान बांद्रा हिट एंड रन मामले में पिछले 13 वर्षो से अदालती कार्रवाई का सामना कर रहे हैं. 28 सितंबर 2002 को एक एसयूवी कार ने फुटपाथ पर सो रहे लोगों को कुचल दिया था. इस घटना में एक की मौत हो गई थी और चार लोग घायल हो गए थे.

इस मामले में सलमान मुख्य आरोपी हैं और इसी संदर्भ में मुंबई की सत्र अदालत बुधवार को अपना फैसला सुनाएगी.

इस साल फिल्मी पर्दे पर सलमान खान की कई फिल्में रिलीज होने वाली हैं, जिनमें उनकी बहुप्रतीक्षित ‘बजरंगी भाईजान’ और ‘प्रेम रतन धन पायो’ लगभग पूरी होने वाली हैं.

इन दोनों फिल्मों की कुल लागत लगभग 200 करोड़ रुपये आंकी जा रही है.

मिरानी के मुताबिक, “किसी को भी जेल भेजने में बहुत समय लगता है. इसमें दस साल तक का समय लग सकता है.”

उन्होंने कहा, “सलमान को जेल जाने में लगभग 10 से 15 साल लग सकते हैं, तब तक उनकी उम्र 60 साल से अधिक हो जाएगी.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!