सरबजीत सिंह की मौत

लाहौर | संवाददाता: पाकिस्तान की जेल में कैदियों के हमले का शिकार हुए भारतीय कैदी सरबजीत सिंह की मौत हो गई है. डाक्टरों का कहना है कि 49 साल के सरबजीत की दिमागी रूप से मौत हो गई है. इसे मेडिकल भाषा में ब्रेन डेड कहा जाता है. इस खबर के बाद सरबजीत की बहन दलबीर कौर भारत लौट रही हैं.

गौरतलब है कि पाकिस्तान के लाहौर स्थित कोट लखपत जेल में बंद भारतीय कैदी सरबजीत सिंह पर साथी कैदियों ने जानलेवा हमला किया था. हमले में गंभीर रूप से घायल सरबजीत को जिन्ना अस्पताल में भर्ती कराया गया था. सरबजीत को पाकिस्तान में एक बम धमाके के मामले में फांसी की सज़ा सुनाई जा चुकी थी.

इससे पहले पाकिस्तान सरकार ने जेल में जानलेवा हमले के शिकार भारतीय कैदी सरबजीत सिंह को इलाज के लिये विदेश भेजने से मना कर दिया था. पाकिस्तान सरकार ने कहा था कि सरबजीत सिंह को भारत भी नहीं भेजा जाएगा. डाक्टरों का कहना था कि सरबजीत के दिमाग में कम से कम 3 ऐसी नसें मिली थी, जहां खून का थक्का जम गया था. इस मामले में भारत सरकार ने भी मानवीय आधार पर सरबजीत सिंह को भारत भेजने की अपील की थी.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *