सुप्रीम कोर्ट करेगा अंबानी की गवाही पर फैसला

नई दिल्ली: 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाले में एक विशेष अदालत द्वारा रिलायंस अनिल धीरूभाई अंबानी समूह (एडीएजी) के अध्यक्ष अनिल अंबानी और उनकी पत्नी टीना अंबानी को अभियोजन पक्ष का गवाह बनाए जाने को चुनौती देने वाली रिलायंस कम्युनिकेशंस की याचिका पर सर्वोच्च न्यायालय बुधवार को सुनवाई करेगा.

अंबानी दंपत्ति की ओर से दर्ज याचिका में कहा गया था कि 2जी घोटाले की जांच लगभग पूरी हो गई है और ऐसे वक्त में उन्हें गवाह बनने के लिए समन का मतलब समझ के बाहर है. वरिष्ठ वकील मुकुल रोहतगी ने इस याचिका को दायर किया था और अदालत से उस पर सुनवाई का आग्रह किया था.

अब प्रधान न्यायाधीश पी.सतशिवम की अध्यक्षता वाली पीठ ने जानकारी दी है कि बुधवार को एक उपयुक्त पीठ इस मामले की सुनवाई करेगी.

इससे पहले सीबीआई ने विशेष अदालत में अर्जी दाखिल अंबानी दंपत्ति को बतौर अभियोजन पक्ष के गवाह बनाए जाने की मांग की थी जिसे अदालत ने मान लिया था.

अर्जी में सीबीआई ने कहा था कि अनिल अंबानी को स्वान टेलीकॉम प्राइवेट लिमिटेड में रिलायंस एडीएजी कंपनियों के 990 करोड़ रुपये के निवेश की जानकारी थी और टीना अंबानी ने उन बैठकों की अध्यक्षता की थी जिनमें 2जी मामलों के विषय में महत्वपूर्ण फैसले लिए गए थे इसीलिए इन दोनों को गवाह के रूप में बुलाए जाने की अनुमति दी जानी चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *