आरबीआई ने खोली शिवराज की पोल: सिंधिया

जबलपुर | एजेंसी: केंद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री और मध्य प्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राज्य के अविकसित राज्यों की श्रेणी में आने के लिए शिवराज सिंह चौहान की सरकार और भारतीय जनता पार्टी को जिम्मेदार ठहराया है. राज्य प्रवास पर जबलपुर पहुंचे सिंधिया ने मंगलवार को पत्रकारों से चर्चा करते हुए आरोप लगाया कि भाजपा के शासन काल में मध्य प्रदेश स्वास्थ्य, शिक्षा और विद्युतीकरण के मामले में काफी पिछड़ गया है. किसान व युवा ठगे गए हैं और कानून-व्यवस्था चौपट हो गई है.

सिंधिया ने भारतीय रिजर्व बैंक की हाल ही में जारी रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि इस रिपोर्ट के अनुसार विकास के मामले में मध्य प्रदेश ओडिशा और बिहार के साथ खड़ा है. इसे अविकसित राज्य की श्रेणी में रखा गया है. अब यह प्रदेश की जनता की जिम्मेदारी है कि वह भाजपा की इस हकीकत से वाकिफ हो जाने के बाद विकास व प्रगति के लिए कांग्रेस को आगे लाएं. कांग्रेस की प्राथमिकता किसान, नौजवान तथा सुरक्षा का माहौल होगा.


राज्य में व्याप्त भ्रष्टाचार की चर्चा करते हुए सिंधिया ने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर जहां कहीं भी भ्रष्टाचार होगा वहां सख्त से सख्त कार्रवाई होगी. इसमें छोटे-बड़े का कोई भेद नहीं होगा. कांग्रेस परिवर्तन सत्ता के लिए नहीं वरन प्रदेश के समग्र विकास के लिए चाहती है.

केंद्रीय मंत्री सिंधिया ने कहा कि केंद्र में जब राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की सरकार थी तब मध्य प्रदेश को महज 1800 करोड़ रुपये ही मिलते थे. आज संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार इससे कई गुना राशि दे रही है. प्रदेश की सरकार केंद्र की इसी राशि से काम कर रही है लेकिन काम में गुणवत्ता नहीं है बल्कि तृतीय श्रेणी का काम हो रहा और बाकी पूरा पैसा नेता अपनी जेब में रख रहे हैं.

अंत में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि पूरे प्रदेश में कांग्रेस के प्रति जनता में खासा उत्साह है और वह प्रदेश में परिवर्तन चाहती है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की आशीर्वाद यात्रा इस बार विदाई यात्रा ही साबित होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!