सेंसेक्स, निफ्टी में मामूली तेजी

मुंबई | एजेंसी: देश के शेयर बाजारों में पिछले सप्ताह प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी में मामूली तेजी दर्ज की गई. इस सप्ताह दोनों सूचकांकों ने अपने जीवन काल का ऐतिहासिक उच्च स्तर छुआ. बंबई स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सप्ताह 0.13 फीसदी या 34.34 अंकों की तेजी के साथ शुक्रवार को 27,061.04 पर बंद हुआ. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 0.23 फीसदी या 18.65 अंकों की तेजी के साथ 8,105.50 पर बंद हुआ.

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से पिछले सप्ताह 17 में तेजी रही. सिप्ला 9.91 फीसदी, भारतीय स्टेट बैंक 4.38 फीसदी, सेसा स्टरलाइट 3.36 फीसदी, हिंदुस्तान यूनिलीवर 3.15 फीसदी और भारती एयरटेल 3.15 फीसदी में सबसे अधिक तेजी रही. सेंसेक्स में गिरावट वाले शेयरों में सन फार्मा 6.05 फीसदी, कोल इंडिया 3.58 फीसदी, एनटीपीसी 3.36 फीसदी, ओएनजीसी 3.02 फीसदी और लार्सन एंड टुब्रो 1.89 फीसदी प्रमुख रहे.


गत सप्ताह मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में सेंसेक्स और निफ्टी से काफी अधिक तेजी रही. मिडकैप 3.25 फीसदी या 314.32 अंकों की तेजी के साथ 9,983.08 पर बंद हुआ. स्मॉलकैप 5.08 फीसदी या 539.72 अंकों की तेजी के साथ 11,166.79 पर बंद हुआ.

पिछले सप्ताह के प्रमुख घटनाक्रमों में गत सप्ताह सोमवार को दोनों सूचकांकों ने अपने जीवनकाल का ऐतिहासिक उच्च स्तर छुआ और ऐतिहासिक उच्च स्तर पर बंद हुए. सोमवार को सेंसेक्स 27,354.99 अंकों के ऐतिहासिक उच्च स्तर को छूकर 27,319.85 के ऐतिहासिक उच्च स्तर पर बंद हुआ. निफ्टी भी सोमवार को 8,180.20 के ऐतिहासिक ऊपरी स्तर को छूकर 8,173.90 के ऐतिहासिक उच्च स्तर पर बंद हुआ.

हाल के दिनों में कच्चे तेल की अंतर्राष्ट्रीय कीमत में गिरावट दर्ज की जा रही है. कच्चे तेल की कीमत घटने से देश का वित्तीय घाटा, चालू खाता घाटा और महंगाई कम करने में मदद मिलेगी. भारत अपने कुल तेल जरूरतों के 80 फीसदी का आयात करता है.

इस बीच, मानसूनी बारिश में तेजी आई है. इससे खाद्य कीमतों में जारी महंगाई में नरमी आ सकती है.

बुधवार को आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने ओएनजीसी, कोल इंडिया और एनएचपीसी के विनिवेश को मंजूरी दे दी. इसके तहत ओएनजीसी में पांच फीसदी, कोल इंडिया में 10 फीसदी और एनएचपीसी में 11.36 फीसदी हिस्सेदारी का विनिवेश किया जाएगा. ये विनिवेश बुधवार 10 सितंबर को प्रति शेयर इन कंपनियों के शेयरों की बंद कीमत पर किए जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!