शीना हत्याकांड: विश्वासघात की दास्तां

मुंबई | समाचार डेस्क: तीन साल पुराने शीना बोरा हत्याकांड का बुधवार को खुलासा हो गया. इस हाई प्रोफाइल मामले में आईएनएक्स मीडिया के पूर्व सीईओ पीटर मुखर्जी की पत्नी व पीड़िता की कथित मां इंद्राणी मुखर्जी के पूर्व पति को गिरफ्तार कर लिया गया है. पीटर मुखर्जी ने बुधवार को चौंकानेवाला खुलासा किया कि शीना उनकी सौतेली बेटी थी और उसका उनके बेटे राहुल मुखर्जी से प्रेम संबंध था.

इस हत्याकांड में मुंबई पुलिस ने इंद्राणी के पूर्व पति संजय खन्ना को बुधवार को कोलकाता से गिरफ्तार किया.


वहीं, शीना बोरा के भाई मिखाइल बोरा ने कहा कि शीना उनकी बहन थी, और इंद्राणी दोनों की मां थीं. उन्होंने कहा कि डीएनए जांच से इस बात का पता आसानी से लगाया जा सकता है कि इंद्राणी मुखर्जी उनकी जैविक मां है.

उन्होंने कहा, “हत्या के पीछे असल वजह कुछ और है, जिसका खुलासा मैं अभी नहीं करना चाहता. मैं चाहता हूं कि सच वही (इंद्राणी) कहें. यदि वह ऐसा नहीं करती हैं, तो मेरे पास सबूत, दस्तावेज व फोटोग्राफ हैं, जिसे मैं बाद में मीडिया में सार्वजनिक करूंगा.”

मिखाइल ने कहा, “पिछले साल मेरी मां जब गुवाहाटी आई थीं, तो मैंने शीना के बारे में पूछताछ की थी. इससे वह न सिर्फ गुस्सा हो गईं, बल्कि मुझे हर महीने भेजी जानेवाली पॉकेट मनी भी बंद कर देने की धमकी दी.”

उन्होंने कहा, “यह जानकर हैरानी हो रही है कि शीना को हमारी मां ने ही मार डाला. लेकिन वह ऐसा कर सकती हैं.”

इंद्राणी व उसके चालक को शीना की हत्या करने व उसके शव को मुंबई के निकट रायगढ़ में ठिकाने लगाने के आरोप में मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया.

इंद्राणी को एक अदालत में पेश किया गया, जहां से 31 अगस्त तक के लिए उसे पुलिस हिरासत में भेज दिया गया.

पीटर मुखर्जी ने कहा कि उन्होंने रिश्ते को नजरअंदाज कर दिया था, क्योंकि राहुल व शीना वयस्क थे और इस बारे में फैसला खुद ले सकते थे. राहुल पीटर मुखर्जी की पहली पत्नी के बेटे हैं.

उन्होंने विभिन्न टेलीविजन चैनलों से बुधवार को कहा, “शीना और मेरे बेटे के बीच प्रेम संबंध था, जिसका इंद्राणी विरोध करती थीं.” उन्होंने यह भी कहा कि इंद्राणी ने उनसे कहा था कि शीना उसकी बहन है. पीटर ने कहा कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं थी कि शीना, इंद्राणी और उसके पहले पति की बेटी थी.

टेलीविजन चैनलों पर उनका बयान प्रसारित होने के ठीक बाद दोपहर में मुंबई पुलिस का एक दल पूछताछ के लिए मुखर्जी के पश्चिमी उपनगर खार स्थित आवास पर पहुंचा. पूछताछ में क्या निकला, इसके बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं मिली है.

मुंबई पुलिस आयुक्त राकेश मारिया ने कहा कि शीना की हत्या 24 अप्रैल, 2012 को की गई थी. इंद्राणी के चालक श्याम राय द्वारा हत्या स्थल के खुलासे के बाद उसी साल 23 मई को उसका शव बरामद किया गया था.

पीटर ने कहा, “इन सब से मैं बेहद परेशान हूं. शीना का मेरे बेटे के साथ प्रेम संबंध था. जब साल 2012 में वह लापता हुई, तो मुझे बताया गया कि वह पढ़ने के लिए अमेरिका गई है. जब मैंने इंद्राणी से पूछा, तो उसने मुझे वहां एक दीवाली समारोह में उसकी एक तस्वीर दिखाई.”

पीटर ने यह भी कहा कि वह हमेशा यही मानते रहे कि शीना इंद्राणी की बहन है.

उन्होंने कहा, “अब शीना के उसकी बेटी होने की बात सामने आ रही है. विश्वस्त सूत्रों ने मुझे बताया है कि शीना उसकी बेटी थी.”

उन्होंने इस बात को स्वीकार किया कि इंद्राणी के गिरफ्तार होने को लेकर वह पूरी तरह हैरान हैं. उन्होंने कहा, “इस स्तर के अपराध से मैं चकित हूं.”

उन्होंने आश्वस्त किया कि इस मुद्दे पर पुलिस के पूर्ण सहयोग के लिए वह तैयार हैं.

पुलिस ने दावा किया है कि उसने रायगढ़ के उस जगह से सबूत बरामद किया है, जहां पीड़िता के शव को दफनाया गया था. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!