कांग्रेस सनसनी फैला रही है: शिवराज

भोपाल | समाचार डेस्क: मध्य प्रदेश के मुक्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कांग्रेस सनसनी फैलाने में विश्वास करती है. उन्होंने कांग्रेस के आरोपों को उकी हताशा का प्रमाण बताया. मध्य प्रदेश में व्यावसायिक परीक्षा मंडल, व्यापमं द्वारा आयोजित परीक्षाओं में हुए फर्जीवाड़े में कथित संलिप्तता के आरोपों को खारिज करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को कहा कि कांग्रेस द्वारा लगाए गए सभी आरोप निराधार और असत्य हैं. कांग्रेस के आरोपों का चौहान ने मंगलवार को जवाब दिया. उनका कहना, “कांग्रेस के सभी आरोप निराधार और असत्य हैं. व्यापमं मामले की उच्च न्यायालय की देखरेख में जांच चल रही है, जांच में दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा.”

मुख्यमंत्री चौहान ने कांग्रेस नेताओं द्वारा जारी दस्तावेजों की प्रामाणिकता पर भी सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता यह नहीं बताते कि जो कागज उन्होंने जारी किए हैं वे आए कहां से.


चौहान ने आगे कहा, “कई चुनावों में मिल रही हार से कांग्रेस में हताशा है और वह एक प्रतिमा को खंडित करना चाहती है, लिहाजा वह लगातार झूठे व असत्य आरोप लगाती रहती हैं. इससे उसे कुछ हासिल नहीं होने वाला, उसे जाना तो जनता के बीच ही होगा.”

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस की ओर से सोमवार को चौहान और उनके परिवार पर कई गंभीर आरोप लगाए गए थे. इन आरोपों में कहा गया था कि व्यापमं की परीक्षाओं में हुई गड़बड़ी में चौहान की अहम भूमिका रही है. कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने तो एक एक्सेलशीट तक जारी की थी, जिसमें कई जगह सीएम, मिनिस्टर एक, दो, तीन और चार लिखा हुआ है. इतना ही नहीं एक स्थान पर तो एम-एस लिखा है.

दिग्विजय ने विशेष जांच दल के समक्ष प्रस्तुत होकर एक शपथ पत्र देते हुए कहा था कि एक्सेलशीट में जहां भी सीएम लिखा था, वहां उमा भारती, राजभवन तक लिख दिया. यह छेड़छाड़ मुख्यमंत्री चौहान को बचाने के लिए विशेष कार्यदल ने की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!