शिवराज हैं मोदी से बेहतर-आडवाणी

ग्वालियर | संवाददाता : क्या मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रधानमंत्री पद के दावेदार हो सकते हैं ? कम से कम लालकृष्ण आडवाणी के शनिवार के बयान के बाद तो राज्य की राजनीति में यह सवाल और प्रासंगिक हो गया है. राजनीतिक गलियारे में चर्चा है कि आडवाणी ने शिवराज के बहाने मोदी को भी निपटाने की कोशिश की है.

भारतीय जनता पार्टी के एक कार्यक्रम में लालकृष्ण आडवाणी ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जमकर प्रशंसा तो की ही, उन्हें पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जैसा नेता भी बता दिया. बात यहीं खत्म नहीं हुई. आडवाणी ने नरेंद्र मोदी के साथ उनकी तुलना करके उन्हें मोदी से बेहतर भी बता दिया.

आडवाणी ने अपने बयान में कहा कि मैं अक्सर नरेंद्र मोदी से कहता हूं कि जब उन्हें मुख्यमंत्री के तौर पर गुजरात भेजा गया था, तब गुजरात पहले से आर्थिक रूप से मजबूत राज्य था. उन्होंने उसे और बेहतर बनाया. लेकिन, मध्यप्रदेश तो एक ‘बीमारू’ राज्य था. इसकी पूरी कायापलट हो गई और यह आर्थिक रूप से मजबूत राज्य के रूप में सामने आया जिसका पूरा श्रेय मैं शिवराज सिंह चौहान को देता हूं.

शिवराज सिंह की तारीफ के कसीदे काढ़ते हुये लालकृष्ण आडवाणी ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी में कोई कमजोरी नहीं थी और उनकी सबसे बड़ी खासियत थी उनकी विनम्रता. यही खासियत वह शिवराज सिंह चौहान में देखते हैं. शिवराज सिंह चौहान मध्यप्रदेश का पूरा रूपांतरण कर देने के बावजूद आज भी उतने ही विनम्र, उतने ही मृदुभाषी हैं. उन्होंने अहंकार को अपने आसपास फटकने नहीं दिया है.

आडवाणी के इस बयान के कई निहितार्थ माने जा रहे हैं लेकिन तत्काल तो केवल प्रधानमंत्री की दौड़ और शिवराज सिंह चौहान के उसमें शामिल होने पर ही चर्चा हो रही है. यह और बात है कि शिवराज इस पर फिलहाल मौन हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *