कांग्रेस अस्ताचल की ओर: शिवराज

बैतूल | समाचार डेस्क: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यहां रविवार को कहा कि भाजपा की देश के हर हिस्से में ‘स्वीकार्यता’ बढ़ रही है, वहीं कांग्रेस अपनी निष्क्रियता के चलते अस्ताचल की ओर जा रही है. मध्यप्रदेश के बैतूल जिले की घोड़ाडोंगरी विधानसभा के उपचुनाव के पार्टी के उम्मीदवार मंगल सिंह के समर्थन में मुख्यमंत्री चौहान ने रविवार को रोड-शो किया.

इस मौके पर चौहान ने कहा कि पूवरेत्तर और दक्षिण में भाजपा का विस्तार हुआ है. उन्होंने कहा कि जिन प्रदेशों में हाल में चुनाव हुए, वहां की जनता ने भाजपा की स्वीकार्यता पर अपनी मोहर लगाई है. वहीं हाल के चुनाव में कांग्रेस अपनी निष्क्रियता के कारण अस्ताचल की ओर बढ़ी है.


ज्ञात हो कि पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा सिर्फ असम में सत्ता में आई है. अन्य चार राज्यों में तृणमूल कांग्रेस, अन्ना द्रमुक, वाम मोर्चा और कांग्रेस-द्रमुक गठबंधन की सरकार बनने जा रही है.

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि प्रदेश में गांव, गरीब और किसान के दिन फिरे हैं और भाजपा की सरकार ने उनके चहुंमुखी विकास का मार्ग प्रशस्त किया. वर्ष 2003 में प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद प्रदेश की तस्वीर और जनता की तकदीर बदली है. किसानों के लिए सिचाई बिजली, ग्रामीण सड़कों, शिक्षा स्वास्थ्य का बंदोबस्त हुआ है.

उन्होंने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि लंबे समय तक कांग्रेस प्रदेश में सत्ता में रही ,उसने किसानों के कर्ज में 18 प्रतिशत ब्याज लेकर शोषण किया जिससे किसान कर्ज के भार में दब गया. भाजपा ने सत्ता में आने के बाद फसल कर्ज को घटाया और अब शून्य प्रतिशत पर किसानों को कर्ज देकर खुशहाली का मार्ग प्रषस्त किया है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि खाद, बीज के लिए किसान यदि एक लाख रुपये का कर्ज लेता है तो उसे कर्ज चुकाने के समय 10 प्रतिशत की छूट दी जाएगी, उसे 90 हजार रुपये मूलान के रूप में लौटाने पड़ेंगे.

रोड शो में चौहान ने प्रदेश में हर व्यक्ति को रोटी, कपड़ा और मकान की गारंटी देने की बात कही. उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में प्रदेश में कोई भी व्यक्ति आवासहीन नहीं रहेगा.

शिवराज ने कहा कि प्रदेश की धरती पर भूख का नामोनिशान मिटाने के लिए प्रदेश सरकार ने बीपीएल और अनुसूचित जाति, जनजाति के परिवारों के लिए गेहूं-चावल, आयोडीन नमक एक रुपये किलो देने की व्यवस्था की है. मजदूर एक दिन की मजूदरी में पूरे महीने का राशन प्राप्त करके खुशहाली के मार्ग पर बढ़ रहा है.

उन्होंने कहा कि गांव में कोई भी बच्चा अनपढ़ न रहे, इसके लिए नि:शुल्क शिक्षा और नि:शुल्क पाठ्यपुस्तकें गांव से दूर जाने वाले छात्र-छात्राओं को मुफ्त साइकिल देकर उन्हें प्रोत्साहन दिया गया है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि अनुसूचित जाति एवं जनजाति के प्रतिभावान छात्र-छात्राओं के लिए विदेशों ने उच्च शिक्षा देने की व्यवस्था की गई है. फीस वहन करने का दायित्व राज्य सरकार ने वहन किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!