राहुल के बयान से भड़के सिख

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: 1984 के सिख दंगों को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी की टिप्पणी को लेकर गुरुवार को दिल्ली गरम रही. सिख संगठनों से जुड़े सैकड़ों लोग कांग्रेस कार्यालय के बाहर जा पहुंचे और उन्होंने इस बात की मांग की कि राहुल गांधी उन कांग्रेस नेताओं के नाम सार्वजनिक करें, जो 1984 के सिख दंगे में शामिल थे.

गौरतलब है कि राहुल गांधी ने हाल ही में एक टीवी इंटरव्यू में कहा था कि कुछ कांग्रेसी संभवतः सिख विरोधी दंगे में शामिल थे. यह दंगे तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के हुये थे. इन दंगों में करीब 3,000 सिखों की मौत हुई थी. देश भर में फैले इन दंगों को लेकर चलने वाला मुकदमा आज भी भारतीय अदालतों में चक्कर काट रहा है.


अब राहुल गांधी की ताज़ा टिप्पणी को लेकर शिरोमणि अकाली दल और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन समिति के प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेड तोड़ दिए और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी के खिलाफ नारेबाजी की. उन्होंने काले झंडे भी दिखाए. प्रदर्शनकारी तख्तियां भी लिए हुए थे जिन पर लिखा था कि “सीबीआई को राहुल गांधी से पूछताछ करनी चाहिए.”

पुलिस के अनुसार कुछ प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया और उनको नजदीकी पुलिस स्टेशन ले जाया गया. प्रदर्शन करीब एक घंटे तक चला और पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पानी की बौछारों का भी उपयोग किया.

इधर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के एक एसआईटी जांच की मांग का स्वागत करते हुए शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष मंजीत सिंह ने केजरीवाल द्वारा कांग्रेस से समर्थन लिए जाने पर सवाल उठाया. आम आदमी पार्टी ने बुधवार को उप राज्यपाल नजीब जंग से मुलाकात करके सिख विरोधी दंगों की एसआईटी जांच की मांग की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!