येचुरी माकपा महासचिव

विशाखापत्तनम | समाचार डेस्क: माकपा सम्मेलन ने सीताराम येचुरी को अपना अगला महासचिव चुन लिया. इस बात के कयास पहले से ही लगाये जा रहे थे कि इस पार्टी सम्मेलन में सीताराम येचुरी को ही महासचिव चुना जायेगा. उल्लेखनीय है कि माकपा ने अपने पिछले सम्मेलन में तय कर दिया था कि महासचिव पद पर कोई भी तीन बार से ज्यादा नहीं रह सकता. उसी समय से माकपा के अगले महासचिव के लिये येचुरी की उम्मीदवारी तय मानी जा रही थी. येचुरी ने छात्र राजनीति से अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत की थी. वे माकपा में प्रकाश करात से जूनियर हैं. मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने रविवार को सर्वसम्मति से सीताराम येचुरी को अपना नया महासचिव चुना. माकपा के 21वें कांग्रेस के अंतिम दिन नई केंद्रीय समिति की बैठक में निवर्तमान महासचिव प्रकाश करात ने येचुरी का नाम प्रस्तावित किया और एस. रामचंद्रन पिल्लई ने इसका समर्थन किया.

कुल 91 सदस्यों वाली केंद्रीय समिति ने सर्वसम्मति से इस प्रस्ताव को मंजूरी दी.


महासचिव पद के दूसरे दावेदार पिल्लई द्वारा दावेदारी वापस लेने के बाद 62 वर्षीय येचुरी को पार्टी का नया महासचिव चुन लिया गया. पिल्लई ने यह कहकर दावेदारी वापस ली कि पार्टी ने सर्वसम्मति से अपना नेता चुनने की परंपरा को कायम रखा है.

करात ने बाद में मीडिया के समक्ष औपचारिक घोषणा कर इस बात की सूचना दी.

येचुरी ने साथ ही 16 सदस्यीय पोलित ब्यूरो का गठन भी किया.

पोलित ब्यूरो में शामिल चार नए सदस्यों में मोहम्मद सलीम, सुभाषिनी अली, हन्नान मूल्लाह और जी. रामकृष्णन शामिल हैं.

बृंदा करात के बाद सुभाषिनी अली पोलित ब्यूरो की दूसरी महिला सदस्य हैं.

माकपा के पोलित ब्यूरो में सीताराम येचुरी, प्रकाश करात, बृंदा करात, एस. रामचंद्रन पिल्लई, बिमान बसु, माणिक सरकार, पिनयाराई विजयन, बी. वी. राघवुलु, के. बालाकृष्णन, एम. ए. बेबी, एस. के. मिश्रा, ए. के. पद्मनाभन, मोहम्मद सलीम, सुभाषिनी अली, हन्नान मुल्लाह और जी. रामकृष्णन शामिल हैं.

इससे पूर्व सम्मेलन में पार्टी की नई केंद्रीय समिति का गठन किया गया, जिसने निवर्तमान पोलित ब्यूरो द्वारा शनिवार को के अंतिम फैसले के बाद सौंपे गए नामों को मंजूरी दी. इसके बाद केंद्रीय समिति ने नए पोलित ब्यूरो और नए महासचिव का चुनाव कराया.

केंद्रीय समिति में 91 सदस्यों के अलावा भी पांच विशेष आमंत्रित एवं पांच स्थाई सदस्य हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!