तेज दिमाग के लिये ले भरपूर नींद

वॉशिंगटन | एजेंसी: यह हमेंशा से ही कहा जाता है कि हमें अपनी नींद जरूर पूरी करनी चाहिए. एक अध्ययन से पता चला है कि रात में न सोना हमारे दिमाग के लिए अधिक हानिकारक हो सकता है. शोधकर्ताओं ने अनिद्रा से पीड़ित लोंगों और रात में भरपूर नींद लेने वाले लोगों के मस्तिष्क के काम में काफी अंतर पाया. युनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, सैन डिएगो के शोधकर्ताओं के मुताबिक स्मृति परीक्षण के दौरान कम नींद लेने वाले लोगों को ध्यान केंद्रित करने में समस्या हुई. अन्य विशेषज्ञों का कहना है कि असल में मस्तिष्क के तारों पर नींद का प्रभाव हो सकता है.

‘स्लीप’ जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के परिणामों से पता चलता है कि अनिद्रा से पीड़ित लोगों के न सिर्फ रात में सोने में परेशानी होती है बल्कि देर से प्रतिक्रिया देने और स्मृति में कमी के रूप में इसका प्रभाव दिन में भी दिखता है.

शोध में अनिद्रा से पीड़ित 25 लोगोंकी तुलना इतने ही अच्छी नींद लेने वाले लोगों के साथ की गई. स्मृति परीक्षण के दौरान उनके मस्तिष्क के एमआरआई स्कैन किए गए.

एक शोधकर्ता शॉन ड्रमॉन्ड ने बताया, “हमने पाया कि स्मृति परीक्षण के दौरान अनिद्रा पीड़ित लोगों का दिमाग महत्वपूर्ण क्षेत्रों में सही तरह से काम नहीं कर रहा है. वे दिमाग के ,मन को भटकाने वाले हिस्से को भी नाकाम नहीं कर पाए.”

उन्होंने कहा, “इस परिणाम से हमें यह समझने में मदद मिली कि अनिद्रा से पीड़ित लोगों को न सिर्फ रात में सोने में समस्या होती है बल्कि दिन के समय भी उनका दिमाग अच्छी तरह से काम नहीं करता.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *