सोशल मीडिया ला रहा रिश्तों में दरार

वॉशिंगटन | एजेंसी: पति-पत्नी तथा प्रेमी-प्रेमिकाओं के बीच सोशल मीडिया को लेकर होने वाली बहस उनके रिश्ते को नुकसान पहुंचा रही है.

ये बहस भावनात्मक और शारीरिक धोखे, संबंध विच्छेद और तलाक सरीखे नकारात्मक नतीजों पर जाकर खत्म हो रही हैं. यह खुलासा एक महत्वपूर्ण शोध में हुआ है. शोधकर्ताओं ने कहा कि सक्रिय ट्विटर उपयोगकर्ताओं का उनके प्रेमी-प्रेमियों से ट्विटर को लेकर विवाद होने की संभावना अधिक है.


यूनिवर्सिटी ऑफ मिसौरी के पत्रकारिता स्कूल के डॉक्टरेट के छात्र रसेल क्लेटन ने कहा, “मुझे यह बात दिलचस्प लगी कि सक्रिय ट्विटर उपयोगकर्ताओं ने मतभेद झेला और नकारात्मक रिश्ता बेपरवाह रोमांटिक संबंध का नतीजा है.”

क्लेटन ने अपने शोध में सभी उम्र के 581 ट्विटर उपयोगकर्ताओं का सर्वे किया.

क्लेटन ने प्रतिभागियों से उनके ट्विटर उपयोग जैसे कि वे कितनी बार ट्विटर पर लॉगिन करते हैं, ट्वीट करते हैं, ट्विटर न्यूजफीड पर लिखते हैं, दूसरों को प्रत्यक्ष संदेश देते हैं और कितने प्रशंसकों को प्रत्युत्तर देते हैं, संबंधी सवाल पूछे.

उन्होंने पाया कि एक प्रतिवादी जो ट्विटर पर ज्यादा से ज्यादा बार सक्रिय है, उसका उसके साथी के साथ ट्विटर संबंधी झगड़ा या विवाद झेलने की संभावना अधिक है.

क्लेटन ने टिप्पणी की, “इस शोध का उद्देश्य मेरे उस पहले शोध को जांचना था, जिससे निष्कर्ष निकला था कि फेसबुक का उपयोग फेसबुक से जुड़े झगड़े या विवाद के प्रति आगाह करता है, जो ट्विटर के समानुरूप बाद में संबंध विच्छेद और तलाक की ओर बढ़ता है.”

क्लेटन ने फेसबुक पर किए अपने पहले शोध में पाया कि 36 माह या उससे कम समय से साथ रह रहे नए जोड़ों या युगलों के बीच फेसबुक से जुड़ा विवाद या झगड़ा और नकारात्मक रिश्ते संबंधी परिणाम ज्यादा थे.

क्लेटन ने सलाह दी कि अगर ट्विटर उपयोगकर्ता अपने जीवसाथी या प्रेमी के साथ ट्विटर संबंधी झगड़े से दो-चार हो रहे हैं तो, “और अधिक स्वास्थ्य के लिए हर आयु वर्ग के लोगों को अपने दैनिक और साप्ताहिक सोशल नेटवर्किं ग वेबसाइटों के प्रयोग को सीमित करना चाहिए.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!