लघु उद्योग रोजगार बढ़ाते हैं: रघुराम

भुवनेश्वर | समाचार डेस्क: आरबीआई के गवर्नर रघुराम राजन ने रोजगार बढ़ाने लघु उद्योगों के नियम सरल किये जाने की वकालत की है. इसी के साथ उन्होंने कहा है कि लगातार दो साल के सूखे के कारण कृषि क्षेत्र दबाव में है. राजन ने इंस्पेक्टर राज को सरल किये जाने की भी वकालत की है. भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने शनिवार को कहा कि अर्थव्यवस्था में सुधार हो रहा है, लेकिन कुछ क्षेत्र दबाव में हैं और उन क्षेत्रों में काम करने की जरूरत है. राजन यहां ओडिशा नॉलेज हब व्याख्यान माला के तहत ‘इंडिया : प्रोस्पेक्ट्स एंड चैलेंजेज’ यानी ‘भारत : संभावना एवं चुनौतियां’ विषय पर बोल रहे थे.

उन्होंने कहा, “कुछ क्षेत्र तो बहुत अच्छा कर रहे हैं, जबकि कुछ दबाव का अनुभव कर रहे हैं और उन्हें अभी जोर पकड़ने की जरूरत है. स्पष्ट रूप से इनमें कृषि क्षेत्र है, जिसने लगातार दो सूखे का सामना किया है.”

उन्होंने रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए लघु उद्योगों के लिए नियम सरल करने और व्यापार शुरू करने के लिए सहज माहौल का समर्थन किया.

राजन ने कहा, “लघु उद्योगों के लिए नियमों का आसान होना बहुत महत्वपूर्ण है. ब्रिटेन में हल्के नियम हैं, इटली में बहुत सख्त नियम हैं. इसके परिणाम स्वरूप छोटे उद्योग इटली की तुलना में ब्रिटेन में ज्यादा तेजी से बढ़ रहे हैं.”

उन्होंने विशेषकर छोटी कंपनियों के प्रवेश और बाहर होने के नियम आसान करने की वकालत करते हुए कहा कि इंस्पेक्टर राज और नरम करना होगा.

केंद्रीय बैंक ने कर्ज देने में प्राथमिकता क्षेत्र के दायरे में मध्यम श्रेणी के उद्योगों को रखा है. उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षो में निजी एवं सार्वजनिक क्षेत्र दोनों के बैंकों ने अतिलघु कर्ज देना बढ़ा दिया है.

उन्होंने कहा कि संपर्क समेत आधारभूत संरचना क्षेत्र छोटे उद्योगों के लिए बहुत मददगार है, जबकि बाजार से उनका संपर्क दूसरी ऐसी चीज है, जिसकी जरूरत है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *