खुदकुशी समाधान नहीं: हेमा मालिनी

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: प्रत्युषा बनर्जी के बरास्ते हेमा मालिनी ने नौजवानों को सीख दी कि खुदकुशी करना समस्या का समाधान नहीं है. उन्होंने कहा है कि जीवन अनमोल है इसके लिये लड़ाई लड़नी पड़ती है. जीवन के लिये लड़ाई लड़ने वाले, परिस्थितियों का मुकाबला करने वालों की दुनिया जय जयकार करती है. उन्होंने जीवन की लड़ाई में हारने वालों को सीख देते हुये कहा है कि वे डरे नहीं बल्कि लड़े. हेमा मालिनी का दर्शन है कि चलकर ही मुकाम तक पहुंचा जा सकता है हारकर बैठ जाना कायरता है.

हेमा मालिनी ने इस सिलसिले में मीडिया पर भी सनसनीखेज समाचार छापने के लिये जमकर निशाना साधा है.


बॉलीवुड अभिनेत्री व भारतीय जनता पार्टी सांसद हेमा मालिनी ने टेलीविजन अभिनेत्री प्रत्यूषा बनर्जी की मौत पर कहा कि जीवन खत्म कर लेना किसी समस्या का समाधान नहीं है. दुनिया लड़ने वालों की प्रशंसा करती है, हारने वालों की नहीं. हेमा मालिनी ने ट्वीट किया, “इस तरह की खुदकुशी से कुछ भी हाथ नहीं लगता! जीवन हमारे लिए ईश्वर का उपहार है, इसे खुद खत्म करने का हमें कोई अधिकार नहीं.”

उन्होंने कहा, “प्रतिकूल परिस्थितियों से हमें लड़ना चाहिए और सफल बनना चाहिए न कि परेशानियां सामने आने पर उनसे लड़ने के बजाय खुदकुशी कर लेना चाहिए. दुनिया लड़ने वालों की प्रशंसा करती है, हारने वालों की नहीं.”

टेलीविजन धारावाहिक ‘बालिका वधू’ से मशहूर हुई अभिनेत्री प्रत्यूषा बनर्जी गोरेगांव स्थित अपने घर में शुक्रवार शाम पंखे से लटकी पाई गई थीं.

हेमा मालिनी ने प्रत्यूषा की मौत के कवरेज के लिए मीडिया पर भी निशाना साधा. उल्लेखनीय है कि हेमा मालिनी ने भी अपने जीवन में संघर्ष करके ही यह मुकाम हासिल किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!