सीतारमण ने सुखोई में भरी उड़ान, पहली महिला रक्षा मंत्री

जोधपुर। डेस्क: रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को वायुसेना के लड़ाकू विमान सुखोई-30 एमकेआई में उड़ान भरी और ऐसा कर वह भारतीय वायुसेना के अग्रिम पंक्ति के लड़ाकू विमान में उड़ान भरनेवाली पहली भारतीय महिला रक्षा मंत्री बन गयीं. 58 वर्षीय सीतारमण ने जोधपुर हवाई ठिकाने से सुखोई लड़ाकू विमान में उड़ान भरने से पहले पायलटों द्वारा पहने जानेवाला जीR-सूट पहना. वह दो सीटवाले सुखोई लड़ाकू विमान के कॉकपिट में पायलट के पीछेवाली सीट पर बैठीं.

सीतारमण ने सुखोई लड़ाकू विमान में अपनी उड़ान को ‘अविस्मरणीय’ बताया. जब विमान उड़ान भरने के लिए आगे बढ़ा तो वह शांतचित्त दिखायी दे रहीं थीं. देश की पहली महिला रक्षा मंत्री ने कॉकपिट के भीतर से हाथ हिलाया तथा ‘थम्प्स अप’ का चिह्न भी दिखाया. सूत्रों ने बताया कि विमान ने जोधपुर के पश्चिम दिशा में उड़ान भरी. वायुसेना के एक अधिकारी ने बताया कि सुपरसोनिक जेट में 45 मिनट की उड़ान भरने के साथ ही रक्षामंत्री सीतारमण सुखोई-30 एमकेआई में उड़ान भरनेवाली दूसरी भारतीय महिला नेता बन गयीं. उनसे पहले तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने 2009 में इस विमान में उड़ान भरी थी. इसके साथ ही एपीजे अब्दुल कलाम जब राष्ट्रपति थे तब उन्होंने भी इस लड़ाकू विमान में उड़ान भरी थी.


अधिकारी ने बताया कि सीतारमण सुखोई-30 एमकेआई में उड़ान भरनेवाली दूसरी रक्षा मंत्री हैं. इससे पहले तत्कालीन रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस ने भी सुखोई-30 एमकेआई में उड़ान भरी थी. उड़ान भरने से पहले पायलट ने रक्षामंत्री को जानकारियों से अवगत कराया. सीतारमण साथ ही लड़ाकू विमान और उसके कॉकपिट के बारे में भी अवगत हुईं. सूत्रों ने बताया कि इससे पहले सीतारमण वायुसेना स्टेशन पर वायुसेना कर्मियों से मिलीं और बल के संचालन और युद्धक तैयारियों की समीक्षा की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!