लू का कहर जारी

हैदराबाद | समाचार डेस्क: लू की चपेट में आने से इस साल तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में 153 लोगों की मौत हो चुकी है. तेलंगाना में अब तक 73 लोग गर्मी की वजह से मारे गए हैं. तेलंगाना के नलगोंडा 28, करीमनगर में 22 और खम्मम में 9 लोग मारे गए. उधर, आंध्र प्रदेश में मरने वालों की तादाद 80 है. आंध्र प्रदेश के प्रकाशम जिले में सबसे ज्यादा 40, विशाखापट्टनम में 12, श्रीकाकुलम में 8 लोग मारे गए. वहीं, पश्चिम बंगाल में भी लू से 4 लोगों के मरने की खबर है.

बुजुर्गो, दिहाड़ी मजदूरों, भिखारियों और फुटपाथ पर गुजर करने वाले गरीबों पर मौसम की सर्वाधिक मार पड़ रही है.


हैदराबाद के मौसम विज्ञान विभाग ने चेतावनी जारी की है कि अगले तीन दिनों तक दोनों राज्यों में गर्मी के हालात बने रहेंगे.

तेलंगाना के खम्माम में शनिवार को तापमान 48 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया, जो इस मौसम का राज्य में अधिकतम तापमान है. इसके साथ ही खम्माम में अधिकतम तापमान का 68 वर्ष पुराना रिकॉर्ड टूट गया.

तेलंगाना के खम्मम, नलगोंडा, निजामाबाद, रामागुंडम में गुरुवार को 47 डिग्री का अधिकतम तापमान रिकॉर्ड किया गया. राज्य के आदिलाबाद, वारंगल, महबूबनगर और करीमनगर में लू ने लोगों को बेहाल कर दिया है.

उधर, पश्चिम बंगाल में चेहरा झुलसा देने वाली गर्म हवाओं का प्रकोप जारी है. राज्य में शनिवार को एक टैक्सी चालक की अचानक मौत हो गई. अंदेशा जताया जा रहा है कि चालक की मौत लू लगने के कारण हुई है. इससे पहले, राज्य में लू से तीन लोगों की मौत हो चुकी है. एक पुलिस अधिकारी ने बताया, “टैक्सी चालक की पहचान शत्रुघ्न पोद्दार के रूप में हुई है. उसे शनिवार को जाधवपुर के समीप अपनी टैक्सी में अचेत अवस्था में पाया गया. बाद में अस्पताल में चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया.”

वहीं शुक्रवार को राज्य में गर्मी के कारण दो लोगों की मौत हो गई. मृतकों में कोलकाता नगर निगम के कर्मचारी मुईनुद्दीन अली और विचाराधीन कैदी जितेंद्र तांती का नाम शामिल है.

राज्य के कई जिलों में शुक्रवार का तापमान 40 डिग्री सेल्सियस रहा.

मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों तक इसी प्रकार की गर्मी रहने की संभावना जताई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!